DIWALI 2021 : दिवाली पर अमावस्या की रात को करें ये 10 उपाय, धन का संकट हो जाएगा दूर

कार्तिक मास की अमावस्या को दिवाली अमावस्या कहते हैं। कहते हैं कि इस दिन रात सबसे घनी होती है। मतलब यह कि यह अमावस्या अन्य अमावस्याओं की अपेक्षा अधिक घनेरी होती है। इसीलिए इस अमावस्या के समय दीपोत्सव मनाया जाता है।

1. मूल रूप से यह अमावस्या माता कालीका से जुड़ी हुई है इसीलिए उनकी पूजा का भी महत्व है। इस दिन लक्ष्मी पूजा का महत्व भी है। कहते हैं कि दोनों ही देवियों का इसी दिन जन्म हुआ था।

2. दीपावली पर महालक्ष्मी के पूजन में सात मुखी दीप जलाएं और माता से समक्ष पीली कौड़ियां रखें। इससे लक्ष्मी माता प्रसन्न होंगी और धन के मार्ग खुलेंगे।

3. शाम के समय घर के ईशान कोण में गाय के घी का दीपक लगाएं। बत्ती में रूई के स्थान पर लाल रंग के धागे का उपयोग करें। साथ ही दीये में थोड़ी-सी केसर भी डाल दें। यह मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने का अचूक उपाय है।

4. अमावस्या वाली रात्रि को 5 लाल फूल और 5 जलते हुए दीये बहती नदी के पानी में छोड़ें। इस उपाय से धन का लाभ प्राप्त होने के प्रबल योग बनेंगे।

5. दिवाली की रात पीपल के पत्ते पर दीप जलाकर जल में प्रवाहित करें।

6. धनलाभ और वैभव के लिए दिवाली की शाम को किसी बरगद के पेड़ की जटा में एक गांठ लगाएं।

7. गन्ने की जड़ को लाल वस्त्र में लपेटकर सिंदूर और लाल चंदन लगाकर तिजोरी या धन रखने के स्थान में रख दें।

8. लक्ष्मी पूजन के समय गोमती चक्र को पूजा की थाली में रखकर मां की पूजा करें।

यह भी पढ़े :  PANCHAMRIT AND CHARNAMRIT ; क्या होता है पंचामृत और चरणामृत, आइए जानते हैं इसके फायदे

9. दिवाली में किसी भी मंदिर में झाडू का दान करें।

10. काली हल्दी को लाल कपड़े में बांधकर देवी लक्ष्मी को अर्पित करें और फिर उसको तिजोरी में रख दें। इसी तरह स्फटिक का श्रीयंत्र लाल कपड़े में लपेटकर अपनी तिजोरी में रख दें।