21.1 C
Delhi
Tuesday, October 19, 2021
- Advertisement -spot_img

TAG

sharadh purv

Sarva Pitru Amavasya 2021: सर्वपितृ अमावस्‍या पर 11 साल बाद बना बेहद शुभ गजछाया योग, ये एक काम दिलाएगा कर्ज से मुक्ति

इस बार पितृ पक्ष ( Pitru Paksha 2021 Start Date) 20 सितंबर 2021, सोमवार से प्रारंभ हुआ हैं और अब इसका समापन 6 अक्टूबर...

SHARADH PURV श्राद्ध पर्व के 8वें दिन बरसते हैं गजलक्ष्मी के आशीर्वाद, आजमाएं यह उपाय

बहुत कम लोग जानते हैं कि भाद्रपक्ष की शुक्ल अष्टमी (राधा अष्टमी) से लेकर श्राद्ध की अष्टमी तक महालक्ष्मी के विशेष आशीष झरते-बरसते हैं। पितृ...

SHARADH PAKSHA श्राद्ध पक्ष : पितरों की मुक्ति हेतु जपें 3 पितृ गायत्री मंत्र

भाद्रपद की पूर्णिमा से आश्विन माह की कृष्ण अमावस्या अर्थात सर्वपितृ मोक्ष अमावस्या तक 16 दिन तक श्राद्ध पक्ष रहता है। इस बार 20...

SHARADH PURV श्राद्ध पर्व के 8 वें दिन बरसते हैं गजलक्ष्मी के आशीर्वाद, आजमाएं यह उपाय

बहुत कम लोग जानते हैं कि भाद्रपक्ष की शुक्ल अष्टमी (राधा अष्टमी) से लेकर श्राद्ध की अष्टमी तक महालक्ष्मी के विशेष आशीष झरते-बरसते हैं। पितृ...

Pitru Paksha 2021: पितरों का पूरा आशीर्वाद चाहिए तो इन जरूरी बातों का रखें ध्‍यान, बरसेंगी खुशियां

पितरों का आशीर्वाद (Blessings) जिंदगी को खुशियों (Happiness) से भर देता है और उनकी नाराजगी परेशानियों (Problems) का अंबार लगा देती है. लिहाजा पितृ...

Pitru Paksha 2021: आज से पितृ पक्ष शुरू, 15 दिनों तक भूलकर भी न करें इनमें से कोई भी काम

पूर्वजों (Ancestors) को याद करके उनकी आत्‍मा की शांति के लिए श्राद्ध (Shradh 2021) करने का समय पितृ पक्ष आज से शुरू हो रहा...

Pitru Paksha 2021: क्या सच में कौओं के रूप में भोजन करने आते हैं हमारे पितृ? ऐसी है मान्यता

श्राद्ध पक्ष में मान्यता है कि इस दौरान पितृ कौओं के रूप में आपके यहां आते हैं और श्राद्ध का भोजन करके तृप्त होते...

AAJ KA PANCHANG :20 सितंबर का पंचांगः श्राद्ध प्रारंभ, जानिए दिन और रात का चौघड़िया, शुभ मुहूर्त और राहुकाल का समय

Aaj Ka Panchang: हिंदू पंचांग को वैदिक पंचांग के नाम से जाना जाता है. पंचांग के माध्यम से समय एवं काल की सटीक गणना...

Pitru Paksha SEPTEMBER 2021 कब शुरू होंगे श्राद्ध पक्ष, पितृपक्ष की तिथियां जानिए यहां

श्रावण माह में रक्षा बंधन के बाद भाद्रपद प्रारंभ हो जाता है तब अष्टमी को कृष्ण जन्माष्टमी रहती है। उसके बाद गणेशोत्सव का प्रारंभ...

Shradh Karam : किसको है श्राद्ध कर्म करने का अधिकार, जानिए क्या है नियम.

तर्पण तथा पिंडदान केवल पिता के लिए ही नहीं बल्कि समस्त पूर्वजों एवं मृत परिजनों के लिए भी किया जाता है। समस्त कुल, परिवार...

Latest news

- Advertisement -spot_img