venus transit 2022 : मां लक्ष्मी की कृपा से इन राशियों के लिए लाभ के योग में खत्म होगा साल शुरू हुए इन राशियों के अच्छे दिन.

शुक्ल पक्ष तृतीया तिथि 5 दिसंबर 2022 दिन सोमवार को रात में कला ,सौंदर्य, प्रेम, आकर्षण, भौतिकता के कारक ग्रह शुक्र का गोचरीय परिवर्तन मंगल की राशि वृश्चिक से देव गुरु बृहस्पति की राशि धनु में होगा। दैत्य गुरु शुक्र का देव गुरु बृहस्पति की राशि में गोचरीय परिवर्तन शुभ फल प्रदायक होगा । क्योंकि जहां शुक्र भौतिकता के कारक ग्रह है तो वही देव गुरु बृहस्पति आध्यात्मिकता के कारक ग्रह है । ऐसे में शुक्र के इस धनु राशि में गोचर से भौतिकता के साथ-साथ आध्यात्म का भी संबंध देखने को मिलेगा । धनु राशि में शुक्र 29 दिसंबर 2022 दिन गुरुवार तक रह कर अपना प्रभाव स्थापित करेंगे।

स्वतंत्र भारत की कुंडली वृष लग्न की होने के कारण शुक्र लग्न के कारक होकर अष्टम भाव में गोचर करने जा रहे हैं। ऐसे में राष्ट्र में सामान्य तौर पर नकारात्मक घटनाओं का प्रभाव थोड़ा बढ़ता हुआ दिखाई देगा । विशेष कर महिलाओं के क्षेत्र में तनाव की स्थितियां ज्यादा दिखाई देंगी। उत्तरी एवं पूर्वी क्षेत्र में ठंड का प्रकोप बहुत तीव्रता के साथ बढ़ेगा। धन के मामले में। व्यापार के मामले में, नई योजनाओं एवं व्यवस्थाओं के दृष्टिकोण से देखा जाए तो शुक्र का यह गोचरीय परिवर्तन सकारात्मक फल प्रदायक होगा । अब हम मेष से लेकर के मीन लग्न पर्यंत के जातकों पर किस प्रकार का प्रभाव शुक्र स्थापित करने वाले हैं इसको जानेंगे।

मेष :- भाग्य में वृद्धि, सम्मान में वृद्धि, पराक्रम में वृद्धि, प्रेम संबंधों में वृद्धि, दांपत्य जीवन में सुधार, साझेदारी के कार्यों में वृद्धि, धनवृद्धि स्थिति उत्पन्न होगी

यह भी पढ़े :  Aaj Ka Love Rashifal : 25 जनवरी 2023 : जानिए प्रेम और वैवाहिक जीवन के लिए कैसा रहेगा आज का दिन.

वृष
स्वास्थ्य को लेकर विशेष तौर पर ध्यान रखें, धन में वृद्धि
वाणी व्यवसाय के क्षेत्र में प्रगति
परिवार में नया कार्य हो सकता है
पारिवारिक कार्यों में प्रगति
पेशाब संबंधी समस्या में वृद्धि, मनोबल कमजोर बना रहेगा

मिथुन :- साझेदारी से लाभ में वृद्धि,
दैनिक आय में सुधार,दांपत्य सुख में वृद्धि
प्रेम संबंधों में सुधार
जीवन साथी के साथ भ्रमण पर खर्च में वृद्धि, कलात्मकता में वृद्धि ।

कर्क :- सुख में कमी महसूस हो सकता है, घर एवं वाहन से संबंधित समस्याओं में वृद्धि,
माता के स्वास्थ्य को लेकर विशेष तौर पर सतर्क रहें
अति घनिष्ट व्यक्ति द्वारा तनाव उत्पन्न किया जा सकता है, यात्रा खर्च में वृद्धि।

सिंह :- आय के साधनों में वृद्धि, व्यापार में विस्तार की संभावना
संतान पक्ष से शुभ समाचार
अध्ययन अध्यापन से जुड़े लोगों के लिए सकारात्मक प्रभाव
पराक्रम में वृद्धि, बौद्धिकता का सार्थक प्रयोग कर पाएंगे।

कन्या :- गृह एवं वाहन के सुख में वृद्धि,
माता के सुख सानिध्य में वृद्धि
मन में हर्ष का वातावरण बना रहेगा, धन में वृद्धि
पारिवारिक कार्यों को लेकर मन प्रसन्न रहेगा
व्यस्तता इस अवधि में बनी रहेगी।

तुला :- पराक्रम में वृद्धि, सम्मान में वृद्धि
राजनीति के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए समय अनुकूल पद बना रहेगा
भाग्य का साथ प्राप्त होगा
मनोबल ठीक बना रहेगा
भाई बंधुओं मित्रों को लेकर मन अशांत रह सकता है।

वृश्चिक :- धन में वृद्धि, परिवार में नया कार्य, पेट की आंतरिक समस्या,
पेशाब संबंधी समस्या के कारण तनाव की स्थिति
जीवनसाथी के सहयोग सानिध्य में वृद्धि ।जीवनसाथी से लाभ में वृद्धि । प्रेम संबंधों में सुधार की स्थिति बनेगी।

यह भी पढ़े :  Feng Shui Tips : हर काम में सफलता पाने के लिए इस जगह जरूर लगाएं शीशा.

धनु :- कलात्मकता में वृद्धि, वैचारिक क्षमता में वृद्धि
लाभ या व्यापारिक विस्तार में प्रगति की स्थिति
दांपत्य एवं जीवन साथी के सुख सानिध्य में वृद्धि
साझेदारी से व्यापार में वृद्धि
स्वास्थ्य के कारण मन अप्रसन्न रह सकता है।

मकर :- भोग विलासिता पर खर्च की स्थिति बनेगी
अति घनिष्ठ व्यक्ति द्वारा तनाव उत्पन्न किया जा सकता है,
स्किन एलर्जी के कारण मन अप्रसन्न रह सकता है
व्यापार या कार्यक्षेत्र में प्रगटी की स्थिति,
धनागम के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे, प्रेम संबंधों में सुधार, दांपत्य जीवन पर खर्च ।

कुंभ :- लाभ एवं आय में वृद्धि, व्यापारिक विस्तार में वृद्धि
भाग्य में सकारात्मक वृद्धि
पिता के सुख सानिध्य में बृद्धि
संतान पक्ष से शुभ समाचार परंतु खर्च वृद्धि, कलात्मकता में वृद्धि ।

मीन :- कार्यों में अवरोध की स्थिति
गृह एवं वाहन सुख में वृद्धि
पराक्रम में वृद्धि
स्वास्थ्य के कारण कार्य क्षेत्र में अवरोध की स्थिति उत्पन्न हो सकता है
पिता के स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहें
माता दुर्गा की पूजा आराधना करना शुभ फल प्रदायक होगा।