23.1 C
Delhi
Monday, October 18, 2021

Hariyali Teej 2021: आज है हरियाली तीज, जानिए अखंड सौभाग्य के लिए पूजा मुहूर्त और शुभ योग.

Must read

Hariyali Teej 2021: हरियाली तीज सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। यह व्रत मुख्यत नाग पंचमी से दो दिन पूर्व आता है। इस दिन महिलाएं विशेष तौर पर हरी साड़ी हरे रंग की चूड़ी और सोलह श्रृंगार करती हैं.

हरियाली तीज सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को मनाई जाती है। यह व्रत मुख्यत: नाग पंचमी से दो दिन पूर्व आता है। सुहागन महिलाएं अखंड सौभाग्य के लिए और कुंवारी युवतियां अपने मनचाहे वर की प्राप्ति के लिए हरियाली तीज का व्रत रखती हैं।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार, इस तिथि को ही भगवान शिव और माता पार्वती का दोबारा मिलन हुआ था, इसलिए हरियाली तीज का महत्व अत्यधिक है। इस दिन व्रती व्रत रखती हैं और माता पार्वती की आराधना भगवान शिव और गणेश जी के सा​थ करती हैं। इस दिन महिलाएं विशेष तौर पर हरी साड़ी, हरे रंग की चूड़ी और सोलह श्रृंगार करती हैं। इस दिन कई स्थानों पर युवतियां झूले भी झूलती हैं।

यह भी पढ़े :  Rashifal Today 18 August 2021 राशिफल : मिथुन, कर्क, सिंह और तुला राशि वालों की दूर होंगी चिंताएं.

Hariyali Teej 2021

हरियाली तीज 2021 मुहूर्त : हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, सावन माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया ति​थि का प्रारंभ 10 अगस्त दिन मंगलवार को शाम 07 बजकर 35 मिनट पर हुआ है। इस तिथि का समापन 11 अगस्त दिन बुधवार को है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, व्रत के लिए उदया तिथि 11 अगस्त को प्राप्त हो रही है, ऐसे में इस वर्ष हरियाली तीज का व्रत आज 11 अगस्त को रखा जाएगा और उसी दिन माता पार्वती, भगवान शिव और गणेश जी की विधि विधान से पूजा की जाएगी।

यह भी पढ़े :  Raksha Bandhan : इस बार रक्षाबंधन पर 12 घंटे का शुभ मुहूर्त, जानिए कब और कैसे बांधे राखी.

शिव योग में हरियाली तीज : इस वर्ष हरियाली तीज शिव योग में पड़ रही है। इस योग की अधिकतर कार्यों के लिए शुभ मुहूर्त में गणना होती है, इसलिए यह शुभ है। हरियाली तीज के दिन 11 अगस्त को शिव योग शाम 07 बजकर 58 मिनट तक है। इसके बाद से सिद्ध योग प्रारंभ हो जाएगा।

हरियाली तीज पर रवि योग : इस वर्ष हरियाली तीज पर रवि योग भी बन रहा है। 11 अगस्त को दिन में 11 बजकर 02 मिनट से अगले दिन 12 अगस्त को प्रात: 06 बजकर 04 मिनट तक रवि योग है। रवि योग सभी नकारात्मकता को दूर करने वाला और अनिष्ट शक्तियों को नष्ट करने वाला होता है।

सुहागिन महिलाओं को चाहिए कि वे हरियाली तीज के व्रत को करने के दौरान इन नियमों का पालन जरूर करें. ताकि उन्हें इस व्रत का पूरा-पूरा लाभ मिले। आइए जानें इन नियमों को :

यह भी पढ़े :  Astrology : सावधान! इन राशि के लोगों पर भरोसा करने से बचें, भूलकर भी न बताएं अपने राज.

● हरियाली तीज का व्रत करने वाली महिलाओं को चाहिए कि इस दौरान वे किसी पर क्रोध न करें.
● व्रत के दौरान व्रती को लालच नहीं करना चाहिए क्योंकि हरियाली तीज का व्रत बहुत ही फलदायी माना जाता है.
● व्रत के दौरान किसी का अपमान न करें. इससे भगवान शिव और माता पार्वती नाराज हो होते हैं.
● हरियाली तीज व्रत के दौरान लड़ाई-झगड़े से बचना चाहिए.
● हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार, हरियाली तीज व्रत में दूध का सेवन वर्जित माना गया है.
● व्रत के दौरान व्रती को दूसरों के प्रति अपने मन में नकारात्मक विचार न लाएं.
● हरियाली तीज का व्रत निर्जला रखा जाता है अर्थात इस व्रत में पूरे दिन जल नहीं ग्रहण करना चाहिए.
● व्रत के दौरान व्रती सोना नहीं चाहिए. उन्हें भगवान शिव और माता पार्वती का ध्यान करते हुए मन्त्रों का जाप करना चाहिए.

यह भी पढ़े :  Rashifal Today | Aaj Ka Rashifal 21 August 2021: सावन के आखिरी शनिवार को इन 5 राशियों को होगा आर्थिक फायदा.
- Advertisement -spot_img

More articles

- Advertisement -spot_img

Latest article