AAJ KA PANCHANG : 28 मार्च 2022: पापमोचनी एकादशी व्रत आज जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 28 मार्च दिन सोमवार है. आज चैत्र माह (Chaitra Month) के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि है. आज पापमोचनी एकादशी व्रत (Papmochani Ekadashi) है. पापमोचनी एकादशी व्रत रखने और भगवान विष्णु की पूजा करने से संकट दूर होते हैं और पाप मिट जाते हैं, पुण्य की प्राप्ति होती है. इस व्रत का महत्व यह है​ कि देवलोक की अप्सरा को पिशाचनी होने का श्राप मिला था. उसने पापमोचनी एकादशी व्रत विधिपूर्वक किया तो उसे अपने पापों से मुक्ति मिल गई और वह​ फिर से देवलोक में अपना स्थान प्राप्त कर ली. इस वजह से जिन लोगों से जाने या अनजाने में कोई पाप हुआ होता है, उनको उनसे मुक्ति के लिए पापमोचनी एकादशी व्रत विधिपूर्वक करना चाहिए. जो लोग पापमोचनी एकादशी व्रत कथा का पाठ या श्रवण करते हैं, उनके संकट दूर हो जाते हैं. पापमोचनी एकादशी पर व्रत के नियमों का सही से पालन करते हुए व्रत रखना चाहिए. इस दिन आप भगवान विष्णु की पूजा के समय ओम नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप कर सकते हैं, यह मंत्र सभी मनोकामनाओं की पूर्ति करने वाला है.

आज सोमवार के दिन शिव पूजा करते हैं और व्रत भी रखते हैं. जो लोग आज व्रत रखेंगे, उनको पापमोचनी एकादशी व्रत का पुण्य भी प्राप्त हो सकता है. आज आप भगवान शिव और भगवान विष्णु दोनों की पूजा साथ में करके पुण्य लाभ अर्जित कर सकते हैं. सोमवार के दिन शिव जी की पूजा करने से चंद्र दोष भी दूर होता है. आज चंद्र देव की पूजा करने से कुंडली में चंद्रमा की स्थिति मजबूत होती है. जीवन में सुख, सौंदर्य आदि बढ़ता है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.
28 मार्च 2022 का पंचांग

यह भी पढ़े :  KITCHEN TIPS : कहीं आपके किचन में भी तो इस जगह पर नहीं है सिंक? बनता है ढेरों मुसीबतों की वजह.

आज की तिथि – चैत्र कृष्णपक्ष एकादशी

आज का करण – बलव

आज का नक्षत्र – श्रवण

आज का योग – सिद्धि

आज का पक्ष – कृष्ण

आज का वार – सोमवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:36:00 AM

सूर्यास्त – 06:53:00 PM

चन्द्रोदय – 28:37:59

चन्द्रास्त – 14:41:59

चन्द्र राशि– मकर

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1943 प्लव

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5122

दिन काल – 12:20:05

मास अमांत – फाल्गुन

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – 12:01:55 से 12:51:16 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 12:51:16 से 13:40:36 तक, 15:19:17 से 16:08:37 तक

कुलिक – 15:19:17 से 16:08:37 तक

कंटक – 08:44:34 से 09:33:54 तक

राहु काल – 08:08 से 09:40

कालवेला/अर्द्धयाम – 10:23:14 से 11:12:35 तक

यमघण्ट – 12:01:55 से 12:51:16 तक

यमगण्ड – 10:54:05 से 12:26:35 तक

गुलिक काल – 14:17 से 15:49