Lal Kitab: अशुभ होता है ऐसा घर, मकान खरीदने या बनवाने से पहले जरूर जांच लें ये अहम बातें

व्‍यक्ति की मेहनत और किस्‍मत जितनी अहम होती है, उतना ही अहम उसके घर का वास्‍तु (Vastu) होता है. यदि व्‍यक्ति के घर की लोकेशन (Home Location) और वास्‍तु सही हो तो कुंडली (Kundali) के कमजोर ग्रह भी अच्‍छा फल देते हैं वरना वास्‍तु दोषों (Vastu Dosh) वाला घर सौभाग्‍य को दुर्भाग्‍य में बदल देता है. लाल किताब (Lal Kitab) में घर (Home) को लेकर कुछ जरूरी बातें बताई गईं हैं, जिन्‍हें घर खरीदते या बनवाते समय जरूर ध्‍यान रखना चाहिए.

दक्षिणमुखी घर लेने से बचें

कभी भी दक्षिणमुखी घर नहीं लेना चाहिए. ऐसा घर शुभ नहीं माना जाता है, यदि ऐसा घर ले लिया है तो उसके मुख्‍य द्वार को बदल कर उत्तर या पूर्व में कर दें.

घर के पास की गली न करें बंद

यदि घर के दाएं-बाएं या पीछे की गली हो तो उसे हमेशा खुला रखें. उसे पौधे लगाकर या किसी अन्‍य तरीके से बंद न करें. ऐसा करने से संतान की तरक्‍की रुक जाती है. यदि गली पहले से ही बंद हो तो हर साल वहां से पानी में 5 किलो साबुत उड़द दाल मिलाकर बहा देनी चाहिए.

सीढ़ियां

घर के वास्‍तु के मुताबिक सीढ़ियां सही दिशा में सही तरीके से बनवाएं. उनके नीचे किचन या बाथरूम न बनवाएं. साथ ही सीढ़ी का हर स्‍टेप ऊंचाई में एक जैसा हो और उनकी संख्‍या विषम हो.

शनि, राहु-केतु दोषों से मुक्‍त हो घर

घर पर शनि, राहु, केतु का बुरा असर न हो. यानी कि घर के पास कीकर, आम और खजूर का पेड़ न हो. घर के पास शराब-नॉनवेज की दुकान न हो. घर एकदम सुनसान इलाके में न हो. ना ही घर के पास कैक्‍टस-बबूल के पेड़ न हों. बेसमेंट वाला घर भी अच्‍छा नहीं होता है.

यह भी पढ़े :  VASTU DOSH [वास्तु दोष] दूर करते हैं श्री गणेश, पर पहले जान लें ये 11 खास बातें...

साफ रखें टॉयलेट

हमेशा टॉयलेट को साफ रखें, वरना राहु का प्रकोप झेलना पड़ता है.