WIND CHIMES : कौन सी दिशा में लगाना चाहिए विंड चाइम जिससे चमक जाएगी आपकी किस्मत.

खुशहाली के लिए लोग हर अच्छी चीज का सहरा लेता है. वास्तु शास्त्र में भी कुछ ऐसी चीजों के बारे में बताया गया है. जो घर-परिवार में खुशहाली के लिए सहायक होते हैं. दरअसर चीनी वास्तु शास्त्र फेंगशुई में विंड चाइम को खास महत्व दिया गया है. छोटी घंटियों से बनी विंड चाइम बहुत सुंदर और आकर्षक होती है. यह घर में सुंदरता बढ़ाने के साथ-साथ शुभ भी होता है. जानते हैं कि विंड चाइम किस प्रकार वास्तु दोष को दूर कर घर में हर तरह की खुशहाली लाता है.

विंड चाइम लगाने की सही दिशा (Wind Chimes Direction)
बाजार में बांस, क्रिसटल, फाइबर, मेटल, लकड़ी और मेटल की विंड चाइम उपलब्ध है. फेंगशुई के मुताबिक धातु की विंड चाइम घर के पश्चिम या उत्तर पश्चिम में लगाना शुभ होता है. वहीं बांस की विंड चाइम को दक्षिण या दक्षिण-पश्चिम की दिशा में लगाना अच्छा है.

किस स्थान पर लगाएं विंड चाइम
विंड चाइम को घर के मुख्य दरवाजे पर लगाना सबसे उपयुक्त होता है. इसके अलावा दरवाजे के बीच में भी लगाया जा सकता है. इसे खिड़की के पास भी लटकाने से घर में शुभता आती है. साथ ही गार्डेन या लान में भी विंड चाइम को लगा सकते हैं. फेंगशुई के अनुसार विंड चाइम को घर में लगाने से पैसों से जुड़ी समस्या नहीं रहती है.

घर में न लगाएं प्लास्टिक की विंड चाइम

प्लास्टिक की विंड चाइम घर में नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि इसके निगेटिव एनर्जी फैलती है. वहीं जिस घर में विंड चाइम लगा होता है वहां सुख और समृद्धि का वास होता है. साथ पारिवारिक सदस्यों के रिश्ते आपस में मधुर होते हैं. इसके अलावा घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता रहता है. वहीं निगेटिव एनर्जी कोसों दूर रहती है. फेंगशुई के एक्सपर्ट का मानना है कि 5 या 7 रॅाड वाली विंड चाइम सबसे शुभ है. इसे घर में लगाने पर परिवार के सदस्यों का भाग्योदय होता है.