VISHNU PURANA : इन 4 कामों को देर तक करना पड़ सकता है भारी, उम्र हो जाती है कम.

इंसान के जीवन में दिनचर्या का खास महत्व है. किसी इंसान की दिनचर्या यदि सही है तो उसका जीवन सुखमय रहता है. वहीं अगर दिनचर्या (Daily Routine) सही नहीं हो तो जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है. पुराणों में दिनचर्या को सही रखने के लिए बाताया गया है. दरअसल विष्ण पुराण (Vishnu Purana) के अनुसार दिनचर्या में कुछ कामों को बहुत देर से करना नुकसानदेह बताया गया है. जानते हैं डेली रूटीन के उन कामों के बारे में जिन्हें बहुत देर तक करने से नुकसान पहुंचा सकता है.

कम या देर तक सोना (Sleep Less or Late)
कम या अधिक सोना शरीरिक और मानसिक दोनों तरह से नुकसान पहुचाता है. विष्णु पुराण के मुताबिक एक सफल इंसान वही है जिसके सोने और जगने का समय निश्चित है. इसके अलावा देर तक जागना और देर तक सोना इंसान के लिए सही नहीं है.

शारीरिक संबंध का समय (Timing of Physical Relation)
महिला-पुरुष में शारीरिक संबंध एक आम प्रक्रिया है. लेकिन यदि इसके लिए समय तय न की जाए तो यह नुकसानदेह होता है. विष्णु पुराण के अनुसार इसे आपसी प्रेम या परिवार को बढ़ाने तक ही सीमित रखना चाहिए.

श्मशान और कब्रिस्तान में देर तक रुकना (Long Stay in Crematoriums and Cemeteries)
विष्णु पुराण के अनुसार रात के वक्त किसी श्मशान या कब्रिस्तान में बिना कारण नहीं जाना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि सूर्यास्त के बाद इन स्थानों पर नकारात्मक शक्तियां विचरण करती हैं. जो किसी भी इंसान के लिए खतरनाक साबित हो सकती हैं.

देर तक स्नान करना (Take a Long Shower)
नहाना इंसान की जरुरत है. नियमित स्नान करने से मानसिक और शारीरिक तौर पर तंदरुस्ती बनी रहती है. विष्णु पुराण के मुताबिक स्नान हमेशा सुबह और जल्द ही कर लेना चाहिए. अधिक देर तक स्नान करने के बीमार पड़ सकते हैं.