Vastu Tips : वास्तु के अनुसार घर के कौन सी जगहों पर जूते नहीं पहनना चाहिए.

वास्तु दोष आपको आर्थिक, मानसिक और शारीरिक रूप से प्रभावित कर सकता है. ये आपको अधिक चिंतित और बोझिल बनाता है. जबकि अगर आपके घर के अंदर वास्तु शास्त्र का ठीक से पालन किया जाता है, तो आप समाज में सम्मान और पैसा प्राप्त करते हैं, इसके अलावा आपके रिश्ते भी आपके घर में पनपते हैं, यही कारण है कि दुनिया भर में बहुत सारे लोग वास्तु शास्त्र के अनुसार बताए गए नियमों का पालन करते हैं.

वास्तु के अनुसार अपने घरों में कुछ जगहों पर जूते या सैंडल पहनने से भी वास्तु दोष हो सकता है. आपने शायद इस पर विचार नहीं किया होगा लेकिन ये सच है. आइए जानें वास्तु के अनुसार घर में किन जगहों पर जूते नहीं रखने चाहिए.

स्टोर रूम
स्टोर रूम में हम अपनी जरूरतों के समान को रखते हैं. ये जगह भोजन और आपूर्ति के स्रोत की तरह है जिसकी हमें जरूरत होती है. जरूरत के समय ये हमें जरूरी चीजों की आपूर्ति कराता है. इसलिए ये एक बहुत ही शुभ स्थान है और ऐसा माना जाता है कि इस स्थान पर चप्पल या जूते पहनने से आपके आवश्यक संसाधनों की अपर्याप्त आपूर्ति हो सकती है.

तिजोरी
जिस स्थान पर धन रखते हैं उसे तिजोरी भी कहते हैं. इस स्थान को बहुत शुभ माना जाता है. लोग इस जगह को धन की देवी लक्ष्मी का आशीर्वाद मानते हैं और यही कारण है कि वास्तु शास्त्र तिजोरी के आसपास जूते नहीं पहनने का सुझाव देता है. अगर आप ऐसा करते हैं तो इसे अशुभ और देवी लक्ष्मी के लिए अपमानजनक माना जाता है. ऐसा करना संकट और कई अन्य समस्याओं का कारण बन सकता है.

यह भी पढ़े :  Gopashtami :12 नवंबर 2021 को गोपाष्टमी : जानिए कैसे करें पूजन, पढ़ें आसान विधि

रसोईघर
रसोईघर में हम खाना पकाते हैं जहां खाने से संबंधित कई सामग्री मौजूद होती है. ये हमें स्वस्थ रखने में मदद करती है. स्वास्थ्य समस्याओं और वास्तु दोष से बचने के लिए आपको अपने रसोई घर से जूते और अन्य चप्पल को दूर रखना चाहिए. इससे देवी अन्नपूर्णा नाराज हो सकती हैं. अगर आप रसोई में जूते पहनते हैं, तो ये आपके जीवन में बाधाओं को उत्पन्न करता है.

मंदिर
मंदिर आपके पूरे परिवार के लिए सकारात्मकता का स्रोत होता है. इसलिए जैसे घरों के बाहर स्थित मंदिरों में लोग पूजा करते समय जूते पहनने से परहेज करते हैं, वैसे ही हमारे घरों में स्थित मंदिर पवित्र होते हैं और उनका समान रूप से सम्मान किया जाना चाहिए. अगर आप मंदिर में चप्पल पहनते हैं तो देवी-देवता नाराज और क्रोधित हो जाते हैं. धन की हानि, स्वास्थ्य की हानि और जीवन में कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है.