TIL CHATURTHI 2022 : आज ग्रहों की शुभ स्थिति ने बनाया ‘सौभाग्‍य योग’ ज़रूर करें ये काम.

जिंदगी के तमाम दुख-दर्द और परेशानियों से निजात पाने के लिए आज का दिन बेहद खास है. आज यानी कि 21 जनवरी को 2 ऐसे खास शुभ योग बन रहे हैं, जिनमें गणेश जी की पूजा-आराधना करने से वे सारे दुख हर लेंगे. लोग भगवान गणपति के लिए व्रत रखते हैं. वैसे तो हर महीने में गणेश चतुर्थी मनाई जाती है. लेकिन माघ महीने के कृष्‍णपक्ष की चतुर्थी बहुत खास होती है. इसे तिलकुटा चौथ या सकट चौथ भी कहते हैं. इस चतुर्थी को साल की सभी चतुर्थी में से 4 सबसे बड़ी चतुर्थी में से एक माना गया है.

2 शुभ योग ने बढ़ाया महत्‍व :-

माघ महीने की संकष्टी चतुर्थी आज 21 जनवरी, शुक्रवार को है. इस दिन पूर्वाफाल्गुनी नक्षत्र में चंद्रमा है, जिससे सिद्धि योग बन रहा है. पूर्वफाल्‍गुनी नक्षत्र शुक्र का नक्षत्र है और आज शुक्रवार भी है. संकष्‍टी चतुर्थी पर शुक्र के नक्षत्र का होना या शुक्रवार के दिन पड़ना भाग्‍य वृद्धि करने वाला होता है. इसके अलावा आज ग्रहों की ऐसी शुभ स्थिति भी है, जो सौभाग्‍य योग भी बन रहा है. ऐसे में आज की गई पूजा-आराधना कई गुना ज्‍यादा फल देगी और किस्‍मत भी चमकाएगी.

जरूर करें ये काम :-

– आज सुबह जल्‍दी स्‍नान कर लें. खासतौर पर महिलाएं यदि ये व्रत कर रही हैं तो सुबह व्रत का संकल्‍प ले.

– हो सके तो पूरा दिन निर्जला रहकर व्रत करें.

– शाम को भगवान गणेश और चौथ माता की पूजा करें. व्रत की कथा सुनें.

– रात में चंद्रमा को अर्घ्य दें.

– परिवार के बुजुर्गों से आर्शीवाद लें. इसके बाद व्रत खोलें.

यह भी पढ़े :  Bhishma Panchak : भीष्म पंचक व्रत क्या है? जानिए महत्व, पूजन विधि और कब होगा समाप्त.

– आज के दिन तिल के लड्डूओं, कंबल-गरम कपड़े और घी आदि का दान करना बेहद शुभ माना गया है. इससे घर में सुख-समृद्धि आती है.
– आज के दिन गाय को हरा चारा भी जरूर खिलाएं. इससे करियर में तरक्‍की मिलेगी.