Study Room Vastu Tips : जानें 6 प्रमुख बातें कैसा हो स्टडी रूम बच्चों का शिक्षा में सफलता के लिए.

Study Room Vastu Tips: कई पैरेंट्स शिकायत करते हैं ​कि उनके बच्चे पढ़ाई में मन नहीं लगाते हैं. एकाग्र (Concentration) होकर पढ़ाई नहीं करते हैं. पढ़ते हैं, लेकिन सफलता मन मुताबिक नहीं मिलती है. कई बार आपके आसपास का माहौल आपको एकाग्र नहीं होने देता है और कई बार आपके स्टडी रूम का वास्तु दोष समस्याएं पैदा करता है. स्टडी रूम वास्तु अनुसार नहीं होता है, तो भी बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होती है और उनका प्रदर्शन ठीक नहीं होता है. इसके लिए आपको जानना होगा कि बच्चों का स्टडी रूम कैसा हो और क्या वास्तु उपाय (Vastu Tips) एकाग्रता के लिए कर सकते हैं. आइए जानते हैं इन वास्तु उपायों के बारे में.

1. घर में स्टडी रूम पश्चिम, दक्षिण-पश्चिम कोण या नैऋत्य दिशा में हो तो उत्तम होता है. यह वास्तु सम्मत माना जाता है.

2. स्टडी रूम का टेबल मध्यम आकार का वर्गाकार या आयताकार हो. ना ज्यादा छोटा और न ही ज्यादा बड़ा. टेबल के सामने खाली जगह होनी चाहिए. कोई दीवार न हो.

3. स्टडी रूम का रंग ऑफ वाइट या लाइट क्रीम होना चाहिए. इन रंगों के प्रयोग से एकाग्रता बढ़ती है. स्टडी टेबल के सामने वाली दीवार पर मां सरस्वती की तस्वीर लगाएं.

4. बच्चे जब भी पढ़ने बैठें तो उनको मुख उत्तर या पूर्व दिशा में होना चाहिए. जहां वे बैठे हों, उनके पीठ की ओर दीवार हो, जिससे उनको ठोस आधार मिले.

5. स्टडी रूम के दक्षिण और पश्चिमी दीवार पर किताबों के लिए अलमारी होनी चाहिए. पूर्व और उत्तर की दीवारें खाली होनी चाहिए, भरी न हों.
6. स्टडी टेबल पर किताबों का अंबार न लगाएं. उसे साफ सुथरा और व्यवस्थित रखें. टेबल लैंप को हमेशा बाईं ओर रखें.