special yoga of venus : शुक्र का खास योग बन रहा हैं मकर संक्राति पर जानें कैसे.

Makar Sankranti 2022: सूर्य 14 जनवरी को राशि मकर राशि में प्रवेश करेगा. इस दिन पौष शुक्ल की द्वादशी रहेगी. ऐसे में इस दिन सूर्य को साथ भगावान विष्णु की भी पूजा विशेष रूप से की जाएगी. इसके अलावा इस दिन गंगा स्नान, गंगासागर स्नान और दान से भी लाभ मिलेगा. इस बार मकर संक्रांति को लेकर काशी विद्वानों का मानना है कि इस दिन पुण्यकाल सूर्योदय से सूर्यास्त तक रहेगा. क्योंकि इस दिन सूर्य का राशि परिवर्तन दोपहर में होगा. जानते हैं यह मकर संक्रांति किसके लिए खास है.

बिजनेस करने वालों के लिए है खास
मकर संक्राति इस बार शुक्रवार को पड़ रही है. ऐसे में ज्योतिष शास्त्र के जानकारों का कहना है कि शुक्रवार के अधिपति भृगु हैं. इसलिए शुक्र से संबंधित जीजें जैसे ज्वेलरी, कपड़े, ग्लैमर और सुख-साधन के सामानों का बिजनेस करने वालों के लिए मकर संक्रांति शुभ साबित होगा. इसके अलावा महिलाओं की तरक्की होगी. साथ ही सुख के साधन बढ़ेंगे.

महंगाई पर रह सकता है नियंत्रण
इस बार मकर संक्रांति का आगमन बाघ की सवारी पर हो रहा है. साथ ही इस मकर संक्रांति का उपवाहन घोड़ा है. जिस कारण शिक्षित और विद्वान लोगों के लिए यह मकर संक्रांति शुभ साबित होगी. हालांकि कुछ लोगों में डर बढ़ सकता है. इसके अलावा यह मकर संक्रांति देश के लिए भी शुभ है. महंगाई पर नियंत्रण भी रहेगा और चीजों की कीमतों में कमी आएगी. वहीं इस साल इस साल राजनीतिक हलचल तेज होगी. मकर संक्रांति पर तिल, गुड़ और कपड़ों का दान करने से अशुभ ग्रहों का बुरा प्रभाव कम होगा.

Leave a comment