Shukrawar Upay : धन एवं संपत्ति में होगी वृद्धि आज शुक्रवार को करें ये 7 आसन उपाय.

Shukrawar Upay: आज शुक्रवार का दिन धन, संपत्ति, सुख, समृद्धि, ऐश्वर्य आदि पाने का अवसर है. शुक्रवार शुक्र ग्रह और माता लक्ष्मी (Shukra Grah And Mata Lakshmi) को समर्पित है. माता लक्ष्मी धन, धान्य, ऐश्वर्य, सुख, समृद्धि, सफलता सबकुछ देने वाली हैं, वहीं शुक्र ग्रह को धन, संपदा, भौतिक सुख का कारक माना गया है. आज आप माता लक्ष्मी और शुक्र ग्रह से जुड़े कुछ आसान उपायों को करके अपनी उन्नति का मार्ग खोल सकते हैं. आइए जानते हैं धन, संपत्ति, सुख, ऐश्वर्य की प्राप्ति के लिए ज्योतिष उपायों (Astrology Tips For Money And Prosperity) के बारे में.

शुक्रवार के उपाय
1. आज शुक्रवार शाम को माता लक्ष्मी के साथ गणेश जी की पूजा करें. माता लक्ष्मी को कमलगट्टा, कमल का फूल, लाल गुलाब और सफेद मिठाई या खीर अर्पित करें. इससे माता लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और धन, संपत्ति में वृद्धि का आशीष देती हैं.

2. यदि आप धन अभाव से परेशान हैं, आर्थिक परिस्थिति खराब है तो आपको शुक्रवार के दिन लक्ष्मी स्तोत्र का पाठ करें. माता लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए इंद्र देव ने लक्ष्मी स्तोत्र का पाठ किया था.

3. आपके धन संपत्ति में वृद्धि नहीं हो रही है, धन का आगमन रुका हुआ है, ऐसे में आप शुक्रवार को पूरे मन से कनकधारा स्तोत्र का पाठ करें. कनकधारा स्तोत्र को बहुत ही चमत्कारी बताया जाता है.

4. माता लक्ष्मी को प्रसन्न करना है तो शुक्रवार के दिन श्री यंत्र और माता लक्ष्मी की विधिपूर्वक पूजा करें, फिर श्री सूक्त का पाठ करें. धन संकट दूर होगा और आर्थिक स्थिति पहले से मजबूत होगी.

यह भी पढ़े :  Rudraksha Significance : जानें कब और किसको नहीं पहनना चाहिए रुद्राक्ष.

5. शुक्र ग्रह के मंत्र ओम द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम: का जाप कम से कम 5 माला या 21 माला करें. इसे कुंडली में शुक्र की स्थिति मजबूत होगी और सुख समृद्धि के अवसर प्राप्त होंगे.

6. धन, संपत्ति एवं सुखी जीवन की प्राप्ति के लिए आप शुक्रवार का व्रत रख सकते हैं. यह व्रत कम से कम 21 शुक्रवार रखना होगा. इस दिन माता लक्ष्मी की पूजा करें और शुक्र ग्रह के मंत्रों का जाप करें.

7. शुक्र को प्रबल करने के लिए सफेद वस्त्र पहनें, इत्र लगाएं, साफ-सफाई रखें, महिलाओं का सम्मान करें. सफेद वस्त्र, चीनी, श्रृंगार सामग्री, चावल, घी, कपूर, दही आदी का दान करें.