Shukra Asta 2022 : इन 4 राशि वालों की बढ़ेंगी मुश्किलें शुक्र 15 सितंबर को होने जा रहे अस्त.

Shukra Asta 2022 : ज्योतिष शास्त्र में शुक्र गोचर का काफी महत्व है। शुक्र को सुख, संपदा, वैभव, ऐश्वर्य और धन आदि का कारक माना गया है। 17 सितंबर को सूर्य सिंह से कन्या राशि में प्रवेश करने जा रहे हैं। इससे पहले 15 सितंबर को शुक्र सिंह राशि में अस्त होने जा रहे हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, 15 सितंबर, गुरुवार को दोपहर 02 बजकर 29 मिनट पर अस्त हो जाएंगे। शुक्र का उदय 02 अक्टूबर को होगा। जानें शुक्र अस्त का किन राशियों पर पड़ेगा असर-

शुक्र कैसे होता है अस्त-

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जब भी कोई ग्रह सूर्य के नजदीक जाता है तो उसे ग्रहों के राजा सूर्य अस्त कर देते हैं। 15 सितंबर को सूर्य के पास जाते हुए शुक्र अस्त हो जाएंगे। कहते हैं कि किसी भी ग्रह के अस्त होने से उसके कारक तत्वों में कमी आ जाती है। इसलिए शुक्र के अस्त होने पर उससे मिलने वाले लाभों में कमी आती है।

किन राशियों पर पड़ेगा अशुभ प्रभाव-

शुक्र के अस्त होने पर चार राशि वालों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। 15 सितंबर को शुक्र के अस्त होने पर मिथुन, कन्या, मकर व कुंभ राशि वालों को पैसों के मामले में सतर्क रहने की जरूरत है। इस दौरान आपके बनते कामों में बाधाएं आ सकती हैं। रिश्ते प्रभाावित हो सकते हैं।

इनके लिए सामान्य रहेगा शुक्र अस्त-

शुक्र अस्त मेष, वृषभ, कर्क, सिंह, तुला, वृश्चिक, धनु और मीन राशि वालों के लिए सामान्य रहने वाला है। शुक्र अस्त का इन राशियों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।

यह भी पढ़े :  5 bad omen are very inauspicious : कौन से 5 अपशगुन होते हैं बेहद अशुभ जिनके होने से घर-परिवार पर मंडराता है खतरा.

शुक्र के अशुभ प्रभाव से बचाव के उपाय-

शुक्र अस्त से जीवन में आने वाली समस्याओं से मुक्ति पाने के लिए जातक को शुक्र के बीज मंत्र ऊं द्रां द्रीं द्रौं स: शुक्राय नम: का जाप करना चाहिए। शुक्रवार के दिन उपवास करने व प्रात: काल में शुक्र देव को जल देना शुभ माना गया है।