PARAD KADA : इस खास धातु का कड़ा पहनते ही कई बीमारियां हो जाती हैं छुमंतर.

हाथ में कड़ा पहनने का चलन काफी पुराना है. कुछ लोग धार्मिक दृष्टिकोण से तो कुछ फैशन के लिए कड़ा पहनते हैं. वहीं कुछ लोग सोना, चांदी, अष्टधातु और लोहे का कड़ा पहनते हैं. कड़ा सिर्फ फैशन के लिए ही अच्छा नहीं है, बल्कि इस पहनने के कई लाभ भी बताए गए हैं. ऐसे में जानते हैं कि पारद का कड़ा किस प्रकार लाभकारी होता है.

पारद कड़ा के फायदे :

-ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक पारद एक जीवंत धातु है. इस धातु का कड़ा हाथ में धारण करने से कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा मिलता है. साथ ही जीवन में आ रही परेशानियों से भी मुक्ति मिलती है.

-पारद धातु को भगवान शिव का स्वरूप माना जाता है. ऐसे इस इस धातु का कड़ा धारण करने से भूत-प्रेत आदि नकारात्मक शक्तियों से भी निजात मिल जाती है. इसके अलावा अगर किसी व्यक्ति पर नकारात्मक शक्तियां जल्द हावी हो जाती है, उन्हें भी इस धातु का कड़ा धारण करना चाहिए.

जो लोग हाथ-पैर और कमर दर्द से परेशान रहते हैं, उन्हें पारद धातु का कड़ा पहनना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि पारद धातु ब्लड सर्कुलेशन को कंट्रोल करने में सहायक होता है.

-पारद धातु जब शरीर पर स्पर्श करता है तो इंसान में ईर्ष्या, अहंकार, लोभ, मोह, हिंसा, विक्षिप्तता जैसी अनेक आंतरिक दोष कम होने लगते हैं. साथ ही इसके प्रभाव से मानसिक पीड़ा भी दूर हो जाती है. इतना ही नहीं इसे धारण करने से आलस्य भी दूर हो जाता है.