new year to wish for children ; नए साल में करे ये खास उपाय संतान प्राप्ति के लिए.

कहा जाता है कि एक विवाहित महिला का जीवन तभी पूर्ण होता है, जब वो मां बनती है. इसलिए हर कोई अपने जीवन में संतान सुख जरूर प्राप्त करना चाहता है. लेकिन आजकल खराब लाइफस्टाइल के चलते कम उम्र पर ही ऐसी समस्याएं होने लगी हैं जिनके कारण तमाम लोगों को मेडिकल चैलेंजेस का सामना करना पड़ता है. इसके कारण कई बार संतान प्राप्ति में देरी होती है, वहीं कुछ लोग संतान सुख से वंचित रह जाते हैं.

कई बार संतान सुख प्राप्त न होने के पीछे हमारे ग्रह नक्षत्र भी जिम्मेदार होते हैं. अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ है और आप इस मामले में काफी परेशान हो चुके हैं तो अब कुछ ज्योतिषीय उपाय आजमाकर देख सकते हैं. हो सकता है कि इनके प्रभाव से आपकी कामना पूरी हो जाए.

आकड़े की जड़
अगर शादी के कई साल बीत चुके हैं और बच्चे नहीं हो पा रहे हैं तो मासिक धर्म के सातवें दिन सफेद आकड़े की जड़ लेकर शिवलिंग के ऊपर से सात बार घुमाएं. इसके बाद इसे लाल कपड़े में लपेटकर कमर पर बांध लें. इससे कुछ ही समय में महिला का गर्भ ठहर जाता है.

चांदी की बांसुरी
अगर बार बार गर्भधारण के बाद किसी कारण से संतान खराब हो जाती है, तो गर्भ धारण के बाद चांदी की एक बांसुरी लेकर पति-पत्नी दोनों मिलकर गुरुवार के दिन राधा-कृष्ण को अर्पित करें. इससे संतान पर आए विघ्न दूर होते हैं और गर्भपात का खतरा नहीं रहता है.

लाल गाय की सेवा
अगर महिला में कोई कमी है जिसके कारण संतान सुख नहीं मिल पा रहा है, तो लाल रंग की गाय और बछड़े की नियमित रूप से सेवा करनी चाहिए. साथ ही भूरे रंग का कुत्ता घर में पालना चाहिए.

यह भी पढ़े :  RASHIFAL TODAY : 06 मार्च 2022 : इन राशि वालों को व्यापार में हो सकती है हानि, जानें क्या कहती है आपकी राशि.

काल सर्प योग या पितृ दोष
कई बार काल सर्प योग या पितृ दोष के कारण भी संतान सुख प्राप्त नहीं होता है. ऐसे में काल सर्प दोष दूर करने के लिए पति-पत्नी दोनों को रामेश्वरम् की यात्रा करनी चाहिए और वहां जाकर काल सर्प पूजन करवाना चाहिए. वहीं पितृ दोष होने पर पीपल का पौधा लगाकर उसकी सेवा करनी चाहिए.

गोमती चक्र
बार बार गर्भपात होने की समस्या है तो शुक्रवार के दिन गोमती चक्र लाल वस्त्र में बांधकर गर्भवती महिला की कमर पर बांध दें. इस उपाय को करने से गर्भपात रुक जाता है.