Lucky Holi Colour : जानिये अपनी राशि अनुसार भाग्यशाली रंग एवं इस होली रंगों से जगाएं भाग्य.

हिंदूओं का प्रमुख त्योहार होली फाल्गुन मास (Falgun Month) की पूर्णिमा को मनाया जाता है. इस बार 17 मार्च के दिन होलिका दहन और 18 मार्च को रंग खेला जाएगा. होली को रंगों का त्योहार भी कहते हैं. अगर हम रंगों का इस्तेमाल ज्‍योत‍िषशास्‍त्र के अनुसार सोच-समझकर करते हैं तो ये रंग (Favorable holi colour for all rashi) बहुत लाभ पहुंचा सकते है. जहां तक संभव हो दैनिक जीवन में और होली खेलने के लिए भी अपनी राशि अनुसार रंगों (lucky holi colour) का चयन कर ग्रहों की सकारात्मक ऊर्जा और उनका आशीर्वाद प्राप्त कर सकते हैं. तो आइये जानते हैं (Favorable holi colour for all rashi ) आपकी राशि अनुसार होली खेलने के लिए भाग्यशाली रंग.

मेष राशि (चु, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मेष राशि के स्वामी मंगलदेव हैं. मंगल का रंग लाल है अत: मेष राशि के लोगों को लाल, नारंगी, पीला और केसरिया रंग से होली खेलना अत्यंत शुभ हो सकता है. होली पर मेष राशि के जातकों को हरे, नीले, भूरे और ग्रे रंग को उपयोग करने से बचना चाहिये.

वृषभ राशि (ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस राशि के स्वामी शुक्रदेव हैं. शुक्र ग्रह चमकीला होता है. इस राशि वाले लोगों को होली खेलने में पीले, आसमानी और सिल्वर, हरे रंगों का उपयोग करना चाहिए. होली पर वृषभ राशि के जातकों को नारंगी, पीला और लाल रंग प्रयोग नहीं करना चाहिए.

मिथुन राशि (का, की, कु, घ, ङ, छ, के, को, हा)
इस राशि के स्वामी बुधदेव हैं. ज्योतिष शास्त्र में इस ग्रह का प्रतिनिधि रंग हरा माना गया है,जो हरियाली और खुशहाली का प्रतीक है. इसलिए मिथुन राशि के लोगों को हरे रंग और सिल्वर कलर से होली खेलनी चाहिए. होली के दिन मिथुन राशि के जातकों को नारंगी, पीला और लाल रंग उपयोग नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़े :  MONTHLY HOROSCOPE October 2021 मासिक राशिफल: अक्टूबर में किसका होगा भाग्योदय, जानें करियर, सेहत और सबकुछ

कर्क राशि (ही, हु, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस राशि के स्वामी चंद्रदेव हैं. इस राशि के लोगों को केसरिया, पीला व सिल्वर रंग से होली खेलना चाहिए. होली पर कर्क राशि के लोगों को काला और नीला रंग रंग उपयोग नहीं करना चाहिए.

सिंह राशि (मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे)
वैदिक ज्योतिष के अनुसार इस राशि के स्वामी सूर्यदेव हैं, जो ग्रहों के राजा हैं. इस राशि वालों को लाल, नांरगी और पीला, केसरिया रंग से होली खेलना चाहिए, इससे इनके उन्नति के योग बन सकते हैं और सूर्यदेव से संबंधित शुभ फल भी मिल सकते हैं. होली के दिन सिंह राशि के जातकों को काले, हरे और नीले रंग से बचना चाहिए.

कन्या राशि (टो, पा, पी, पू, ष, ण, ठ, पे, पो)
इस राशि के स्वामी बुधदेव हैं. वैदिक ज्योतिष शास्त्र में इस ग्रह का प्रतिनिधि रंग हरा माना गया है, जो हरियाली और खुशहाली का प्रतीक है इसलिए कन्या राशि के लोगों को हरे रंग और सिल्वर कलर से होली खेलनी चाहिए. होली के दिन कन्या राशि के जातकों को नारंगी, पीला और लाल रंग प्रयोग नहीं करना चाहिए.

तुला राशि (रा, री, रु, रे, रो, ता, ती, तू, ते)
ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस राशि के स्वामी शुक्रदेव हैं. शुक्र ग्रह चमकीला होता है. इस राशि वाले लोगों को होली खेलने में पीले, आसमानी और सिल्वर, हरे रंगों का उपयोग करना चाहिए. होली पर तुला राशि के जातकों को लाल, पीला और नारंगी रंग प्रयोग नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़े :  Shani Jayanti : 1 नहीं 3 ग्रहों का मिलेगा फायदा शनि जंयती पर पैरों में बांधे काला धागा.

वृश्चिक राशि (तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू)
इस राशि के स्वामी ग्रहों के सेनापति मंगलदेव हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मंगल का रंग लाल है अत: वृश्चिक राशि के लोगों को लाल, नारंगी, पीला और केसरिया रंग से होली खेलना अत्यंत शुभ हो सकता है. होली पर वृश्चिक राशि के जातकों को हरे और नीले रंग को प्रयोग करने से बचना चाहिए.

धनु राशि (ये, यो, भा, भी, भू, धा, फा, ढ, भे)
इस राशि के स्वामी देवगरु बृहस्पति हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस ग्रह का प्रतिनिधि रंग पीला है. इसलिए इस राशि के लोगों को लाल, पीला और नारंगी रंग से होली खेलनी चाहिए. होली के दिन धनु राशि के जातकों को काले, नीले, भूरे और ग्रे रंग से बचना चाहिए.

मकर राशि (भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, गा, गी)
इस राशि के स्वामी न्याय के देवता कहे जाने वाले सूर्यपुत्र शनिदेव हैं. वैदिक ज्योतिष के अनुसार इसलिए इस राशि के लोगों को नीले, ग्रे, भूरे रंग से होली खेलना शुभ रहेगा. इससे शनिदेव की कृपा इन पर बनी रहेगी. मकर राशि के जातकों को लाल, पीला और नारंगी रंग का प्रयोग नहीं करना चाहिए.

कुम्भ राशि (गु, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा)
मकर राशि की तरह इस राशि के स्वामी शनिदेव हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस राशि के लोगों को नीले, ग्रे, भूरे रंग से होली खेलनी चाहिए. इससे शनिदेव की कृपा इन पर बनी रहेगी. मकर राशि के जातकों को नारंगी, लाल और पीले रंग का उपयोग नहीं करना चाहिए.

यह भी पढ़े :  Ganga Saptami 2022 : जानिए कब हैं गंगा सप्तमी और क्या करना चाहिए इस दिन.

मीन राशि (दी, दू, थ, झ, ञ, दे, दो, च, ची)
इस राशि के स्वामी देवगरु बृहस्पति हैं. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इस ग्रह का प्रतिनिधि रंग पीला है. इसलिए इस राशि के लोगों को लाल, पीला और केसरिया रंग से होली खेलनी चाहिए. होली के दिन धनु राशि के जातकों को काले, नीले, ग्रे और भूरे रंग से बचना चाहिए.