KALA DHAGA : काला धागा पहनने के हैं ढेरों लाभ जानकर लड़कियां ही नहीं लड़के भी पहन लेंगे!

कई लोग काला धागा पहनते हैं. कोई हाथ में पहनता है तो कोई गले में पहनता है तो कुछ लोग एक पैर में काला धागा पहनते हैं. हालांकि इसे कुछ लोग फैशन के चलते पहनते हैं लेकिन इसका धर्म और ज्‍योतिष के लिहाज से बहुत महत्‍व है. काला धागा पहनना उन उपायों में से एक है जो जीवन सुखी और समृद्धि बनाता है साथ ही कई मुसीबतों से भी बचाता है.

नकारात्‍मक शक्तियां रहती हैं दूर
ज्‍योतिष के मुताबिक काला धागा पहनने से नकारात्‍मक शक्तियां दूर रहती हैं और व्‍यक्ति कई तरह की मुसीबतों से बचा रहता है. इसके अलावा भी काला धागा पहनने के कई फायदे हैं.

– काला धागा नजर दोष से बचाता है. जिन बच्‍चों को या लोगों को बार-बार नजर लगती है उन्‍हें काला धागा जरूर धारण करना चाहिए.

यदि कुंडली में शनि ग्रह अशुभ स्थिति में हों तो पैर में काला धागा पहनने से बहुत लाभ होता है. इससे शनि के कारण सेहत और आर्थिक स्थिति पर पड़ने वाले नकारात्‍मक असर से बचा जा सकता है. वरना शनि की बुरी नजर बहुत नुकसान कराती है.

– ऐसे लोग जो लोग बराबर आर्थिक नुकसान का शिकार हो रहे हैं या व्‍यापार में घाटा उठा रहे हैं. ऐसे लोगों को पैर में काला धागा पहनन से बहुत राहत मिलेगी.

– यदि कुंडली में राहु-केतु कमजोर हैं तो पैर में काला धागा जरूर पहन लें. यह आपको कई तरह के कष्‍टों से बचाता है. राहु और केतु छाया ग्रह हैं, इनका अशुभ होना जिंदगी को बर्बाद कर सकता है.

यह भी पढ़े :  Pithori Amavasya SEPTEMBER 2021 : कब है भाद्रपद अमावस्या, जानें पूजा विधि, परंपराएं और शुभ मुहूर्त.

ऐसे धारण करें काला धागा :

– काला धागा शनिवार के दिन पहनें

– काला धागा हमेशा भैरव मंदिर में ले जाकर ही पहनना चाहिए. साथ ही पैर में काला धागा पहनने के बाद कम से कम 21 बार शनिदेव के बीज मंत्र का जाप करना चाहिए.

– काले धागे के साथ कभी भी लाल या पीला धागा न पहनें.

– कोशिश करें कि काला धागा पहनने के बाद रोजाना गायत्री मंत्र का 11 बार जाप करें. इससे कई गुना ज्‍यादा लाभ होगा.