Home Vastu Tips : जानें 9 प्रमुख बातें घर की खिड़कियों से जुड़ी हुई.

Home Vastu Tips: घर का वास्तुशास्त्र के अनुरूप होना शुभता एवं उन्नति को बढ़ाता है. उस घर में रहने वाले लोग खुशहाल, स्वस्थ होते हैं और उनके जीवन में तरक्की होती रहती है. जब घर में वास्तु दोष (Vastu Dosh) होता है, तो सेहत (Health), नौकरी (Job), बिजनेस (Business), रिश्ते (Relationship) सब प्रभावित होते हैं, सफलता मिलने में मुश्किलें आने लगती हैं. घर में मुख्यद्वार, खिड़कियों, किचन, बाथरूम, बेडरूम, बालकनी आदि के लिए वास्तुशास्त्र में उचित स्थान एवं दिशा के बारे में बताया गया है. आज हम आपको घर की खिड़कियों से जुड़े वास्तु (Window Vastu) के बारे में बता रहे हैं. आइए जानते हैं इसके बारे में.

खिड़कियों के लिए वास्तु उपाय
1. घर की खिड़कियों को सकारात्मकता का स्रोत माना जाता है, जिससे घर की उन्नति होती है. जब भी घर बनावाएं, उसमें सम संख्या में खिड़कियों को लगवाएं. घर में खिड़कियों की संख्या 4, 6, 8, 10 जैसी सम संख्या में लगाना चाहिए.

2. खिड़कियों के दरवाजे अंदर की ओर खुलने वाले होने चाहिए. इसे शुभ माना जाता है. इसका मतलब यह होता है कि आपके घर के अंदर ऊर्जा का प्रवाह बाहर अंदर की हो रहा है. खिड़कियां दो पल्ले वाली होनी चाहिए.

3. घर की खिड़कियों के लिए पूर्व और उत्तर पूर्व की दिशा उत्तम मानी जाती है. सूर्योदय होने पर घर के अंदर सूर्य की पहली किरणों का आना सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक हैं.

4. घर के पश्चिम एवं दक्षिण दिशा में छोटी खिड़कियों को लगा सकते हैं. हालांकि उस तरफ यदि काफी खुली जगह हो, तो वहां खिड़की न लगाएं तो अच्छा है.

यह भी पढ़े :  Tulsi Vivah 2021 : देवउठनी एकादशी पर तुलसी विवाह क्यों किया जाता है, जानिए 10 खास बातें.

5. यदि आप उत्तर पूर्व या पूर्व दिशा में खिड़की लगाते हैं, तो वह बड़ी हो तो बहुत अच्छा होगा. वहां से आपको ताजी हवा और सूर्य की किरणें प्रचूर मात्रा में मिलेंगी.

6. उत्तर दिशा में खिड़की लगाते हैं, तो उसे उत्तर पूर्व की तरफ लगाएं तो ज्यादा अच्छा रहेगा.

7. घर की दक्षिण पश्चिम दिशा में खिड़की का होना सेहत को प्रभावित करने वाला हो सकता है. इस वजह से इस दिशा में खिड़की लगाना वर्जित बताया गया है.

8. घर में बड़ी खिड़कियों को पूर्व, उत्तर या उत्तर पूर्व दिशा में लगाते हैं. मध्यम आकार वाली खिड़कियों को दक्षिण पूर्व या उत्तर पश्चिम दिशा में लगाना चाहिए.

9. खिड़कियों के खुलने और बंद होने पर आवाज नहीं होनी चाहिए. यदि ऐसा है तो उसे ठीक करा लें.