Holashtak 2022 : कल से 8 दिनों तक नहीं होंगे मांगलिक कार्य आज ही कर लें अपने शुभ काम.

Holashtak 2022: फाल्गुन माह (Phalguna Month) में शुक्ल पक्ष की अष्टमी से लेकर पूर्णिमा (Purnima) तिथि तक कोई भी शुभ मांगलिक कार्य नहीं किैए जाते हैं. इस 8 दिनों को होलाष्टक कहा जाता है. होली पूर्व ये 8 दिन मांगलिक कार्यों के लिए शुभ नहीं माने जाते हैं. ये 8 दिन अपशगुन के होते हैं क्योंकि भक्त प्रह्लाद को इन आठ दिनों में कई यातनाएं दी गई थीं और होलाष्टक के समय 8 ग्रह उग्र होते हैं. इस वजह से ही होलाष्टक के समय में कोई नए कार्य की शुरुआत, नौकरी परिवर्तन, मकान-वाहन की खरीदारी आदि जैसे कार्यों को करने से बचा जाता है. ऐसे में यदि आपको कोई शुभ कार्य करना है, तो उसे आज ही कर लें क्योंकि कल 10 मार्च से होलाष्टक लग रहा है. फिर आप होली (Holi) तक कोई कार्य नहीं कर पाएंगे. आइए जानते हैं होलाष्टक के प्रारंभ समय (Holashtak Starting Time) और आज के शुभ मुहूर्त (Shubh Muhurat) के बारे में.

होलाष्टक 2022 प्रारंभ का समय :-

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, फाल्गुन माह के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि कल 10 मार्च को 02:56 एएम पर लग जा रही है. ऐसे में होलाष्टक 10 मार्च के प्रात:काल से ही प्रारंभ हो जाएगा. फिर यह फाल्गुन पूर्णिमा त​क रहेगा. इस साल फाल्गुन पूर्णिमा 17 मार्च को है. इस तरह से आप 10 मार्च से लेकर 17 मार्च तक कोई भी शुभ कार्य नहीं कर पाएंगे.

हालांकि होलाष्टक के 8 दिनों के अपने अपने शुभ मुहूर्त भी होंगे, जिनमें आप पूजा पाठ आदि जैसे मांगलिक कार्य कर पाएंगे. शादी, मुंडन, गृह प्रवेश, उपनयन संस्कार आदि वर्जित रहेंगे.

यह भी पढ़े :  biggest weakness according to the zodiac : राशि अनुसार जानें अपनी सबसे बड़ी कमजोरी, नए साल में बदल डालें बुरी आदतें.

आज के शुभ मुहूर्त  :-

10 मार्च से पहले मांगलिक कार्यों के लिए आपके पास बस आज का ही दिन बचा है. आइए जानते हैं आज के शुभ मुहूर्त के बारे में.

रवि योग: प्रात: 06 बजकर 38 मिनट से सुबह 08 बजकर 31 मिनट तक

सर्वार्थ सिद्धि योग: आज पूरे दिन

विजय मुहूर्त: दोपहर 02 बजकर 30 मिनट से दोपहर 03 बजकर 17 मिनट तक

आज का दिन मांगलिक कार्यों की दृष्टि से उत्तम है क्योंकि आज पूरे दिन सर्वार्थ सिद्धि योग बना हुआ है. सर्वार्थ सिद्धि योग में किए गए कार्य सफल होते हैं. सुबह करीब दो घंटे के लिए रवि योग भी बन रहा है और दोपहर में 47 मिनट के लिए विजय मुहूर्त भी है.

यदि आज आप अपने बच्चे का नामकरण संस्कार करना चाहते हैं तो आज इसके लिए भी मुहूर्त है. आज आप अपने बच्चे का नाम रख सकते हैं.