Guru Purnima ; जानिए कब है गुरु पूर्णिमा की सही तिथि पूजा का शुभ मुहूर्त और महत्व.

गुरु पूर्णिमा आषाढ़ मा​ह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मनाई जाती है. इस साल गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) 13 जुलाई दिन बुधवार को है. इस दिन गुरुजनों की पूजा करते हैं. गुरु का जीवन में बड़ा महत्व होता है. गुरु के बिना ज्ञान की प्राप्ति नहीं होती है. सनातन धर्म में मान्यता है कि हर दंपत्ति को अपना एक गुरु बनाना चाहिए और उनसे गुरु मंत्र लेना चाहिए. गुरु के सच्चे ज्ञान से मोक्ष का मार्ग खुलता है.

गुरु पूर्णिमा 2022 तिथि
हिंदू कैलेंडर के अनुसार, आषाढ़ माह के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि 13 जुलाई को प्रात: 04:00 बजे से प्रारंभ हो रही है. यह तिथि 14 जुलाई को 12:06 एएम पर समाप्त होगी. ऐसे में इस साल गुरु पूर्णिमा 13 जुलाई को मनाई जाएगी.

गुरु पूर्णिमा 2022 मुहूर्त
इस दिन प्रात:काल से ही इंद्र योग बना हुआ है, जो दोपहर 12 बजकर 45 मिनट तक रहेगा, वहीं पूर्वाषाढा नक्षत्र भी रात 11 बजकर 18 मिनट तक है. यह योग और नक्षत्र, दोनों ही मांगलिक कार्यों के लिए शुभ हैं.

गुरु पुर्णिमा पर एक साथ कई शुभ योग बन रहे हैं. 13 जुलाई को शश, रुचक, हंस और भद्र चार राजयोग बनेंगे और इस दिन बना बुधादित्य योग भी अद्भुत है.

गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा
म​हर्षि वेद व्यास जी का जन्म आषाढ़ पूर्णिमा तिथि को हुआ था. इस वजह से इस तिथि को ही व्यास जयंती मनाई जाती है या व्यास पूजा करने की परंपरा है. वेद व्यास जी ने महाभारत के साथ अन्य महत्वपूर्ण ग्रंथों की रचना की थी.

यह भी पढ़े :  RASHIFAL TODAY : 9 January 2022 राशिफल : मेष, वृषभ, सिंह, वृश्चिक, धनु, कुम्भ राशि वाले रहें सतर्क.

गुरु की महत्ता
गुरू ब्रह्मा गुरू विष्णु,
गुरु देवो महेश्वरा
गुरु साक्षात परब्रह्म,
तस्मै श्री गुरुवे नमः।।

गुरु गोविन्द दोऊ खड़े, काके लागू पाय।
बलिहारी गुरु आपने, गोविन्द दियो बताय।।