gods and goddesses : हर मुराद कर देंगे पूरी इस तरह लगाएंगे भोग देवी-देवता होंगे प्रसन्‍न.

हिंदू धर्म में देवी-देवताओं की पूजा बिना भोग के अधूरी है. भगवान की पूजा-अर्चना करने के बाद उन्‍हें भोग जरूर लगाया जाता है. हर देवी-देवता के अपने प्रिय भोग हैं और उसी के अनुसार उन्‍हें भोग अर्पित करना चाहिए. इससे वे प्रसन्‍न होकर भक्‍तों की मनोकामनाएं पूरी कर देते हैं. आज जानते हैं कि किस भगवान को कौनसा भोग लगाने से पूजा का कई गुना ज्‍यादा फल मिलता है.

भगवान विष्णु (Lord Vishnu)
सृष्टि के संचालक भगवान विष्णु को तुलसी बहुत प्रिय है. उनकी पूजा-अर्चना में तुलसी दल का भोग जरूर लगाएं. साथ ही उन्‍हें आटे की पंजीरी, सूजी का हलवा और पंचामृत भी अर्पित करना अच्‍छा होता है.

मां लक्ष्‍मी (Maa Laxmi)
मां लक्ष्मी दूध से बनी सफेद मिठाइयों का भोग लगाना सबसे शुभ माना जाता है. इससे धन की देवी लक्ष्‍मी प्रसन्‍न होकर धन-धान्‍य बरसाती हैं. हो सके तो उन्‍हें केसर भात या केसर वाली खीर का भोग लगाएं, यह उन्‍हें सबसे ज्‍यादा प्रिय है.

भगवान शिव (Bhog for lord shiva)
भगवान शिव को मिठाइयों या भोजन का भोग नहीं लगाया जाता है. उन्‍हें धतूरा, बेल पत्र, दूध, दही, शहद और घी अर्पित करना चाहिए. पंचामृत से किया गया भगवान शिव का अभिषेक हर मुराद पूरी कर देता है.

भगवान श्रीकृष्‍ण (Lord Shri Krishna)
भगवान श्रीकृष्‍ण को माखन-मिश्री बेहद प्रिय है. इसके अलावा उन्‍हें धनिए की पंजीरी का भी भोग लगा सकते हैं.

भगवान गणेश (Lord Ganesh)
भगवान गणेश को लड्डू और मोदक बेहद प्रिय हैं. उन्‍हें प्रसन्‍न करने के लिए मोदक, मोतीचूर या बेसन के लड्डुओं का भोग लगाएं.

यह भी पढ़े :  AAJ KA PANCHANG : 19 मार्च 2022: आज करें शनि आराधना जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

मां दुर्गा (Maa Durga)
मां दुर्गा को भोग में हलवा और चने अर्पित किए जाते हैं. इसके अलावा उन्‍हें मालपुए, पूरणपोली और खीर भी बहुत प्रिय है. इनका भोग लगाने से वे प्रसन्‍न होकर सारी मनोकामनाएं पूरी कर देती हैं.