SOLAR ECLIPSE IN KUNDALI : कुंडली में भी लगता है ‘सूर्य ग्रहण’, कराता है बड़े नुकसान; जानिए पहचानने के तरीके.

सूर्य ग्रहण लगना अशुभ माना जाता है क्‍योंकि यह देश-दुनिया से लेकर सभी लोगों पर भी बुरा असर डालता है. यदि किसी व्‍यक्ति की कुंडली में सूर्य ग्रहण लगे तो उसकी जिंदगी मुसीबतों से भर जाती है.

सूर्य ग्रहण केवल आकाश मंडल में ही नहीं लगता है, बल्कि यह लोगों की कुंडली में भी लगता है. किसी भी जातक की कुंडली में सूर्य ग्रहण लगना बहुत अशुभ होता है. यह उसकी जिंदगी के कई पहलुओं पर बुरा असर डालता है और उसकी तरक्‍की में बाधा बनता है. इतना ही नहीं कुंडली में सूर्य की कमजोर स्थिति या सूर्य पर ग्रहण लगना की मानसिक और शारीरिक सेहत पर भी बुरा असर डालता है.

ऐसे लगता है कुंडली में सूर्य ग्रहण :
यदि राहु का बुरा असर सूर्य पर पड़े तो उससे कुंडली में सूर्य ग्रहण बनता है. जैसे सूर्य के साथ राहु का होना या राहु का लग्न में बैठना सूर्य ग्रहण का कारण बनता है. राहु का इस तरह सूर्य को पीड़ित करना पितृ दोष भी लगाता है. सूर्य ग्रहण कुंडली के जिस भी भाव में बनता है, उससे संबंधित क्षेत्र में व्‍यक्ति को ढेरों मुसीबतें झेलनी पड़ती हैं. लिहाजा इसका समय रहते उपाय कर लेना ही बेहतर है.

सूर्य ग्रहण के कारण होते हैं ये नुकसान :

– कुंडली में सूर्यग्रहण हो तो व्यक्ति के जीवन में बहुत उतार-चढ़ाव आते हैं. उसके जीवन में कभी स्थिरता नहीं रहती है.

– सूर्य ग्रहण जातक की हड्डियों को कमजोर करके उसे कई तरह की समस्‍याएं देता है.

– सफलता और सम्‍मान नहीं मिलता. उलटे जिंदगी में मान हानि या दंड भुगतना पड़ सकता है.

यह भी पढ़े :  Tulsi Ke Pani Ke Fayde: नौकरी-बिजनेस में नहीं मिल रही तरक्की, तुलसी जल से करें ये उपाय; चमक जाएगी किस्मत.

– व्‍यक्ति में आत्‍मविश्‍वास नहीं रहता है. घर में पिता और महिलाओं के साथ विवाद चलते रहते हैं.

– शादी में देरी, संतान के कारण दुख उठाने पड़ते हैं.

– ऐसे जातक के मुंह में हमेशा थूक बना रहता है. वह किसी गंभीर बीमारी का शिकार हो सकता है.

सूर्य ग्रहण के कारण होते हैं ये नुकसान :

– कुंडली में सूर्यग्रहण हो तो व्यक्ति के जीवन में बहुत उतार-चढ़ाव आते हैं. उसके जीवन में कभी स्थिरता नहीं रहती है.

– सूर्य ग्रहण जातक की हड्डियों को कमजोर करके उसे कई तरह की समस्‍याएं देता है.

– सफलता और सम्‍मान नहीं मिलता. उलटे जिंदगी में मान हानि या दंड भुगतना पड़ सकता है.

– व्‍यक्ति में आत्‍मविश्‍वास नहीं रहता है. घर में पिता और महिलाओं के साथ विवाद चलते रहते हैं.

– शादी में देरी, संतान के कारण दुख उठाने पड़ते हैं.

– ऐसे जातक के मुंह में हमेशा थूक बना रहता है. वह किसी गंभीर बीमारी का शिकार हो सकता है.