Navratri Vrat Rules: नवरात्रि के व्रत में इन चीजों का गलती से भी न करें सेवन, निष्फल हो जाता है उपवास

शारदीय नवरात्रि पर्व 7 अक्टूबर से शुरू होने वाले हैं. वैसे ते नवरात्रि साल में 4 बार आती है लेकिन अश्विन में आने वाली शारदीय नवरात्रि (Sharadiya Navratri 2021) सबसे महत्वपूर्ण माना गया है.

इस बार 8 दिन के होंगे नवरात्र :

इस बार शारदीय नवरात्रि (Sharadiya Navratri 2021) 9 दिनों के बजाय 8 दिनों के होंगे. इसकी वजह ये है कि इस बार तृतीया और चतुर्थी एक ही दिन पड़ रही है. जो भक्त नवरात्रि का व्रत रखते हैं, उन्हें कई नियमों Navratri Vrat Rules का पालन करना होता है. आज हम आपको बताते हैं कि नवरात्रि में आपको किन चीजों का कभी भी सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा न करने पर मां दुर्गा रुष्ट हो जाती हैं.

 

सरसों- तिल के तेल से बचें :

नवरात्रि के दौरान आपको सरसों या तिल के तेल के सेवन से बचना चाहिए. ये तेल गर्मी पैदा करते हैं, जिससे इंसान का मन भटकता है. इसके बजाय मूंगफली का तेल या घी का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके अलावा शराब और तंबाकू का सेवन भी नवरात्रि में नहीं करना चाहिए.

 

नवरात्रि उपवास (Navratri Vrat Rules) के दौरान लहसुन, प्याज, गेहूं, चावल, दाल, मांस और अंडों का सेवन नहीं करना चाहिए. इसके साथ ही हल्दी, धनिया, हींग, गरम मसाले, सरसों और लौंग के इस्तेमाल से भी बचना चाहिए. इन चीजों के सेवन से शरीर में तामसी प्रवृति बढ़ती है. जिसका असर इंसान के आध्यात्मिक जीवन पर पड़ता है.

 

नॉर्मल नमक का सेवन न करें :

गेहूं आटा, मैदा, चावल, सूजी और बेसन व्रत में नहीं खाया जाता है. नॉर्मल नमक भी व्रत के खानपान में इस्तेमाल नहीं किया जाता है. इसके बजाय आप सेंधा नमक का इस्तेमाल कर सकते हैं.

यह भी पढ़े :  Chandra Grahan November 2021: इस तारीख को लग रहा है चंद्र ग्रहण, महीने भर तक सावधान रहें ये राशि वाले लोग.

 

फल-सब्जी का कर सकते हैं सेवन :

नवरात्र (Navratri Vrat Rules) में आप व्रत रखने के दौरान आप फल- सब्जी और सूखे मेवे का सेवन कर सकते हैं.आप सिंघाड़े के आटे, कुट्टू, बाजरा, मूंगफली, साबूदाना, मखाना, दूध और दही का भी इस्तेमाल कर सकते हैं. इसके साथ ही जीरा, काली मिर्च और सेंधा नमक को भी खाया जा सकता है.