Chhath Puja 2021: आज है खरना; छठ पूजा में न करें ये 8 गलतियां, होता है बड़ा नुकसान

Chhath Puja 2021: कल (8 नवंबर 2021) नहाए-खाए से शुरू हुई छठ पूजा (Chhath Puja) का आज दूसरा दिन खरना (Kharna 2021) है. आज व्रती सूर्य को अर्ध्‍य देंगे. साथ ही गुड़ की खीर का भोग लगाएंगे. 4 दिन चलने वाली इस पूजा में खास तरह के प्रसाद बनाए जाते हैं. साथ ही पूजा में कई तरह के फल और हरी सब्जियों का भी इस्‍तेमाल होता है. बिहार और झारखंड में छठ महापर्व बहुत जोर-शोर से मनाया जाता है. छठ पूजा बहुत पवित्र और अहम मानी जाती है, इसमें छठी मैया और सूर्य की पूजा की जाती है. इस दौरान कुछ नियमों (Rules) का सख्‍ती से पालन करना चाहिए, वरना पूजा के दौरान की गईं गलतियां (Mistakes) बहुत भारी पड़ सकती हैं.

छठ पूजा में पालन करें ये जरूरी नियम

– छठ पूजा के व्रत की शुरुआत करते समय स्‍नान करके साफ कपड़े पहन लें. इसके अलावा ध्‍यान रखें कि प्रसाद बनाते समय भी आप पवित्र हों. ना ही प्रसाद बनाते समय बीच में कुछ खाएं.

– सूर्य भगवान को अर्ध्‍य देने वाला पात्र तांबे या पीतल का हो. सूर्य को कभी भी स्‍टील, चांदी, प्‍लास्टिक, कांच के पात्र से जल नहीं देना चाहिए.

– व्रत रख रही महिलाओं को व्रत के दौरान बेड या चारपाई पर नहीं सोना चाहिए. वे फर्श पर दरी या चादर बिछाकर सोएं.

– छठ पूजा का प्रसाद चूल्‍हे पर बनाएं और इसे ऐसी जगह पर बनाएं जहां रोजाना का खाना न बनता हो.

– छठ पूजा के दौरान घर में झगड़ा न करें. वरना छठी माता नाराज हो सकती हैं. खासतौर पर व्रती को किसी को भी अपशब्‍द नहीं बोलना चाहिए.

यह भी पढ़े :  Astrology: क्राइसिस मैनेजमेंट में अव्‍वल होते हैं ये 4 राशि वाले, हर हालात से निपटकर बढ़ जाते हैं आगे

– छठ पूजा के दौरान व्रती और पूरे परिवार को तामसिक भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए. ना ही घर में लाना चाहिए. इस दौरान नॉनवेज, प्‍याज-लहसुन गलती से भी न खाएं.

– छठ पूजा के दौरान नशा नहीं करना चाहिए.

– व्रती सूर्य को अर्ध्‍य दिए बिना कुछ नहीं खाएं-पिएं.