CHANAKYA NITI: इन 5 बुरी आदतों की वजह से माँ लक्ष्मी घर से चली जाती है.

नीति शास्त्र में चाणक्य ने में धन, विद्या, वैवाहिक जीवन, पारिवारिक मुद्दे और शत्रु समेत जीवन की कई पहलुओं पर विचार व्यक्त किए हैं. आचार्य चाणक्य के विचार आज के समय में भी प्रासंगिक हैं. चाणक्य की नीतियों का पालन करने वाला जीवन के हर क्षेत्र में सफल होता है. चाणक्य के मुताबिक कुछ आदतें जीवन में आर्थिक तंगी लाते हैं. ऐसे में इंसान को इन बुरी आदतों को बदल देना चाहिए.

आमदनी से अधिक खर्च
चाणक्य के मुताबिक किसी भी व्यक्ति को आय से अधिक खर्च नहीं करना चाहिए. जो इंसान अपनी आय से अधिक खर्च करता है वह हमेशा आर्थिक तंगी से परेशान रहता है. चाणक्य नीति के अनुसार धन का संग्रह कराना चाहिए, क्योंकि मुश्किल समय में धन काम आता है.

कुसंगति
आचार्य चाणक्य कहते हैं कि इंसान को बुरे लोगों की संगति नहीं करनी चाहिए. यह इसलिए क्योंकि बुरे लोगों की संगति करने वालो के पास मां लक्ष्मी कभी नहीं करती हैं. साथ ही ऐसे लोगों को जीवन में हर पल मुश्किलों का सामना करना पड़ता है.

धोखेबाज से रहें बचकर
आचार्य चाणक्य के अनुसार पीठ पीछे धोखा देने वालों को समाज में मान-सम्मान नहीं मिलता है. चाणक्य कहते हैं कि इस स्वभाव वाले इंसान को धन पाने के लिए बहुत अधिक मेहनत करना पड़ता है. ऐसे लोगों से मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं.

झूठ बोलने वाला
चाणक्य के मुताबिक जो व्यक्ति अपने स्वार्थ के लिए हमेशा झूठ का सहारा लेता है, उस पर मां लक्ष्मी कभी मेहरबान नहीं होती हैं. ऐसे लोगों को जीवन में दूसरों के सामने अपमानित होना पड़ता है.

यह भी पढ़े :  Narasimha Jayanti 2022 : नरसिंह जयंती पर इस मुहूर्त में विधिपूर्वक करें पूजा, शत्रु होंगे परास्त.

बड़े-बुजुर्गों का अपमान करने वाला
चाणक्य का मानना है कि जो लोग बड़े-बुजुर्गों का सम्मान नहीं करते हैं उनके घर में दरिद्रता का वास होने लगता है. साथ ही ऐसे लोगों से मां लक्ष्मी दूर चली जाती हैं.