Baby Born In Pitru Paksha : बच्‍चों का जन्‍म शुभ या अशुभ हैं पितृ पक्ष में पाते हैं ऐसा भविष्‍य और स्‍वभाव.

Pitru Paksha me janme log kaise hote hain: हिंदू पंचांग के अनुसार पितृ पक्ष शुरू हो चुके हैं और अश्विन मास की अमावस्‍या तक चलेंगे. 10 सितंबर से शुरू हुए श्राद्ध 25 सितंबर तक चलेंगे. पितृ पक्ष के इन 15 दिनों के दौरान पैदा होने वाले बच्‍चों को लेकर धर्म-शास्‍त्रों में कुछ खास बातें बताई गई हैं. इसके मुताबिक जानते हैं पितृ पक्ष में जन्‍मे बच्‍चे शुभ होते हैं या अशुभ या इन बच्‍चों का भविष्‍य कैसा होता है.

धरती पर आते हैं पितृ
मान्‍यता है कि पितृ पक्ष में पितृ धरती लोक पर आते हैं. वे अपने परिवार को देखते हैं और कई बार गाय, कौवे, जरूरतमंद के रूप में अपने परिजनों को देखने के लिए घर भी आते हैं. इसलिए इस दौरान खूब दान-धर्म करने और दरवाजे से किसी को खाली हाथ न लौटाने के लिए कहा जाता है. साथ ही इस दौरान पितरों की शांति के लिए तर्पण श्राद्ध और पिंडदान आदि अनुष्ठान किए जाते हैं. इससे पितृ खुश होकर आशीर्वाद देते हैं और घर में सुख-समृद्धि आती है. साथ ही इस माह में जन्म लेने वाले बच्चे भी बेहद खास होते हैं.

पितृ पक्ष में जन्मे बच्‍चे होते हैं खास
पितृ पक्ष के दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता है. इस समय में किसी तरह का उत्‍सव मनाने, नई चीजें खरीदने की मनाही होती है. वहीं पितृ पक्ष में बच्‍चे का जन्‍म होना बहुत शुभ होता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार पितृ पक्ष में जन्म लेने वाले बच्चे बेहद रचनात्मक होते हैं. वे अपनी कला के जरिए खूब नाम-पैसा कमाते हैं. श्राद्ध के 15 दिनों के दौरान जन्‍मे बच्‍चों पर पितरों का आशीर्वाद रहता है. इस कारण वे अपने जीवन में खूब तरक्‍की करते हैं. वे अपने परिवार में खुशियां और समृद्धि लेकर आते हैं. ये बच्‍चे अपने परिवार के हालात बेहतर करते हैं.