April 2022 Shubh Muhurat : जानें अप्रैल के दूसरे सप्ताह के मुहूर्त 15 अप्रैल से शुरु होंगे विवाह कार्यक्रम.

April 2022 Shubh Muhurat: अप्रैल 2022 का दूसरा सप्ताह 11 तारीख दिन सोमवार से लेकर 17 अप्रैल रविवार तक है. इस सप्ताह में 15 अप्रैल से विवाह के लिए शुभ मुहूर्त मिल रहे हैं. 15 अप्रैल से शादियों का दौर शुरु हो जाएगा, वहीं इस सप्ताह जनेऊ, नामकरण, खरीदारी आदि के कुछ शुभ मुहूर्त हैं. आपको इस सप्ताह कोई शुभ कार्य करना है, तो आपको जानना होगा​ कि इन सात दिनों में शुभ मुहूर्त कौन कौन से हैं. आइए जानते हैं अप्रैल के दूसरे सप्ताह के शुभ मुहूर्त.

अप्रैल 2022 दूसरे सप्ताह के शुभ मुहूर्त

शुभ विवाह मुहूर्त अप्रैल 2022
खरमास की वजह से विवाह पर जो रोक लगी थो, वो अप्रैल के दूसरे सप्ताह से हट जाएगी. 15 अप्रैल से विवाह कार्यक्रम शुरु हो जाएंगे. इस सप्ताह में विवाह के लिए 3 दिन शुभ मुहूर्त हैं. 15 अप्रैल, 16 अप्रैल और 17 अप्रैल को शादियों के लिए शुभ समय हैं. यदि आपको विवाह के लिए कोई तारीख तय करनी है, तो इस सप्ताह की इन तीन तारीखों में से कोई एक तय कर सकते हैं.

जनेऊ संस्कार मुहूर्त अप्रैल 2022
अप्रैल के दूसरे सप्ताह में जनेऊ या उपनयन संस्कार के लिए केवल एक ही दिन उपलब्ध है. 11 अप्रैल दिन सोमवार को जनेऊ संस्कार के लिए शुभ मुहूर्त है. इस दिन जनेऊ संस्कार के लिए शुभ समय सुबह 07 बजकर 15 मिनट से दोपहर 12 बजकर 18 मिनट तक है.

नामकरण मुहूर्त अप्रैल 2022
हाल ही में आपको संतान सुख प्राप्त हुआ है और आप अपनी संतान का नामकरण संस्कार करना चाहते हैं, तो इसके लिए 11 अप्रैल और 15 अप्रैल का दिन शुभ है. इन दो दिनों के शुभ मुहूर्त में आप अपने बच्चे का नाम रख सकते हैं.

यह भी पढ़े :  Career Horoscope : 3 April 2022 आर्थिक राशिफल : इस राशि के लोगों को व्यापार और नौकरी में लाभ, जानें अपनी आर्थिक स्थिति.

खरीदारी मुहूर्त अप्रैल 2022
अप्रैल 2022 के दूसरे सप्ताह में यदि आप प्लॉट, मकान, फ्लैट, नया वाहन या कोई प्रॉपर्टी खरीदना चाहते हैं, तो 11 अप्रैल और 12 अप्रैल का दिन शुभ है. इन दो दिनों में किसी भी एक दिन आप बयाना दे सकते हैं या रजिस्ट्री करा सकते हैं.

गृह प्रवेश मुहूर्त अप्रैल 2022
अप्रैल के इस सप्ताह में ग्रह प्रवेश के लिए कोई शुभ मुहूर्त नहीं है.

मुंडन मुहूर्त अप्रैल 2022
अप्रैल के दूसरे सप्ताह में मुंडन संस्कार के लिए कोई मुहूर्त नहीं है. आपको अगले सप्ताह यानी तीसरे सप्ताह का इंतजार करना होगा. तीसरे सप्ताह में केवल एक दिन ही मुंडन का मुहूर्त है. इसके बारे में जानकारी तीसरे सप्ताह के मुहूर्त में मिलेगी.