Aaj Ka Panchang : 19 मई 2022 : आज है एकदंत संकष्टी चतुर्थी, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 19 मई दिन गुरुवार है. आज ज्येष्ठ माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है. आज एकदंत संकष्टी चतुर्थी व्रत है. आज गणेश पूजन और एकदंत संकष्टी चतुर्थी व्रत कथा का पाठ करने से दुख, कष्ट, पाप और संकट दूर होते हैं. गणेश जी के आशीर्वाद से मनोकामनाएं पूरी होती हैं. संकष्टी चतुर्थी व्रत में रात के समय चंद्रमा की पूजा अनिवार्य है. इसके बिना संकष्टी चतुर्थी व्रत पूरा नहीं होता है. हालांकि विनाय​क चतुर्थी व्रत में चंद्रमा को देखना भी वर्जित है क्योंकि उससे मिथ्या कलंक लगने का डर रहता है. आज आप गणेश जी के मंत्रों का जाप करके भी अपनी मनोकामनाएं पूरी कर सकते हैं.

आज गुरुवार के दिन भगवान विष्णु और देव गुरु बृहस्पति की पूजा करते हैं. दोनों की पूजा करने से घर में जल्द ही मांगलिक कार्य होने का योग बनता है. जिनकी शादी में कोई विलंब होता है, तो वे लोग गुरुवार व्रत रखते हैं और भगवान विष्णु की पूजा करते हैं. आज केले के पौधे की भी पूजा अर्चना करते हैं क्योंकि उसमें श्रीहरि विष्णु का वास माना जाता है. पूजा में चने की दाल, गुड़ या फिर बेसन के लड्डू या हलवे का भोग लगाते हैं. इस दिन व्रत रखने वाले व्यक्ति को गुरुवार व्रत कथा का पाठ करना चाहिए. आज आप हल्दी, बेसन, चने की दाल, पीला वस्त्र, पीतल आदि का दान करके अपने गुरु ग्रह को मजबूत कर सकते हैं. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की चाल.

यह भी पढ़े :  MAHASHIVRATRI 2022 : महाशिवरात्रि पर पूरी हो जाएगी हर मनोकामना इस खास तरीके से करेंगे शिव जी की पूजा.

9 मई 2022 का पंचांग

आज की तिथि – ज्येष्ठ कृष्णपक्ष चतुर्थी

आज का करण – बव

आज का नक्षत्र – मूल

आज का योग – साध्य

आज का पक्ष – कृष्ण

आज का वार – गुरुवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 05:57:00 AM

सूर्यास्त – 07:15:00 PM

चन्द्रोदय – 22:56:00

चन्द्रास्त – 08:09:00

चन्द्र राशि– धनु

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 13:38:32

मास अमांत – वैशाख

मास पूर्णिमांत – ज्येष्ठ

शुभ समय – 11:50:23 से 12:44:58 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त– 10:01:15 से 10:55:49 तक, 15:28:40 से 16:23:14 तक

कुलिक– 10:01:15 से 10:55:49 तक

कंटक– 15:28:40 से 16:23:14 तक

राहु काल– 14:15 से 15:55 तक

कालवेला/अर्द्धयाम– 17:17:48 से 18:12:22 तक

यमघण्ट– 06:22:59 से 07:17:33 तक

यमगण्ड– 05:28:25 से 07:10:44 तक

गुलिक काल– 09:16 से 10:56 तक