Aaj Ka Panchang ; 10 मई 2022 : आज है सीता नवमी, करें माता सीता की पूजा-अर्चना, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 10 मई दिन मंगलवार है. आज वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि है. आज सीता नवमी मनाई जाएगी. राम नवमी की ही तरह सीता नवमी का भी हिंदू धर्म में बहुत महत्व है. मान्यता है कि इस दिन माता सीता का पृथ्वी पर प्राकट्य हुआ था. सीता नवमी को सीता जन्मोत्सव या जानकी जयंती भी कहते हैं. ऐसी मान्यता है कि यदि सीता नवमी पर पूरे विधि-विधान से भक्त सीता जी की पूजा-अर्चना करता है, तो उसके जीवन के सारे दुख, कष्ट दूर हो जाते हैं. घर में खुशियां आती हैं.

क्या है सीता नवमी का महत्व
माता सीता लक्ष्मी का अवतार कही जाती हैं. ऐसे में सीता जी की पूजा करने से लक्ष्मी मां भी प्रसन्न होती हैं. कहते हैं सच्चे मन से माता सीता की पूजा करें, सीता नवमी पर व्रत रखें, तो घर से आर्थिक तंगी दूर होती है. पति की उम्र दीघार्यु होती है. घर में पारिवारिक कलेश, कलह, रोगों से छुटकारा मिलता है.

सीता नवमी पूजा विधि
सीता नवमी की पूजा और व्रत करने के लिए जातक सुबह उठकर स्नान कर लें. पूजा स्थल पर चौकी रखकर उस पर लाल वस्त्र बिछाएं और माता सीता और भगवान राम की मूर्ति रखें. अब माता सीता का श्रृंगार करें और सुहाग की सामग्री चढ़ाएं. शुद्ध रोली, चावल, धूप, दीप, मिठाई, लाल पुष्प से तैयार माला आदि चढ़ाएं. पूजा में तिल के तेल या फिर गाय के घी से ही दीप जलाएं और आरती करें. अब माता सीता के मंत्र का जप करें और सीता चालीसा का पाठ करें.

यह भी पढ़े :  Vastu Tips For sawan : भगवान शिव की ऐसी तस्वीरें सावन में घर में लगाएं धन समृद्धि की होगी वर्षा.

10 मई 2022 का पंचांग

आज की तिथि – वैशाख शुक्ल नवमी

आज का करण – बलव

आज का नक्षत्र – मघा

आज का योग – ध्रुव

आज का पक्ष – शुक्ल

आज का वार – मंगलवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:01:00 AM

सूर्यास्त – 07:10:00 PM

चन्द्रोदय – 13:09:00

चन्द्रास्त – 26:30:59

चन्द्र राशि– सिंह

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 13:27:39

मास अमांत – वैशाख

मास पूर्णिमांत – वैशाख

शुभ समय – 11:50:46 से 12:44:36 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त– 08:15:23 से 09:09:14 तक

कुलिक– 13:38:27 से 14:32:18 तक

कंटक– 06:27:42 से 07:21:33 तक

राहु काल– 15:53 to 17:32

कालवेला/अर्द्धयाम– 08:15:23 से 09:09:14 तक

यमघण्ट– 10:03:05 से 10:56:55 तक

यमगण्ड– 08:55:46 से 10:36:44 तक

गुलिक काल– 12:36 to 14:14