Aaj Ka Panchang : 04 मई 2022 : विनायक चतुर्थी व्रत आज, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 04 मई दिन बुधवार है. आज वैशाख माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि है. सुबह 07:34 बजे से चतुर्थी तिथि प्रारंभ हो जाएगी. ऐसे में उदयातिथि का ध्यान करते हुए वैशाख माह की विनायक चतुर्थी व्रत आज रखी जाएगी. आज बुधवार का दिन भी गणेश जी की पूजा के लिए समर्पित है. ऐसे में आज गणपति बप्पा की पूजा करना और व्रत रखना उत्तम है. इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और रवि योग भी है. ये दोनों ही योग कार्यों में सफलता प्रदान करने वाले हैं. इस दिन व्रत करने से आपकी मनोकामना सिद्ध होगी. आज के दिन व्रत रखने वालों को विनायक चतुर्थी व्रत कथा सुननी चाहिए.

विनायक चतुर्थी या बुधवार की गणेश जी की पूजा में मोदक, दूर्वा, लाल फूल, फल, अक्षत्, कुमकुम, सुपारी, पान का पत्ता, धूप, दीप, गंध, गुलाल आदि का उपयोग करना चाहिए. यदि मोदक नहीं है, तो आप मोतीचूर के लड्डू भी चढ़ा सकते हैं. पूजा के समय गणेश चालीसा का पाठ और गणेश मंत्र का जाप करना चाहिए. इसके पश्चात घी के दीपक या तिल के तेल वाले दीपक से गणेश जी की आरती करनी चाहिए. गणेश जी विघ्नहर्ता हैं, उनकी कृपा से सभी कार्य सफल होते हैं, संकट दूर होते हैं. आपकी सभी मनोकामनाएं पूरी होंगी. आज बुधवार को हरा वस्त्र, हरा मूंग, हरा चारा, कांसे का बर्तन आदि दान करना चाहिए. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की चाल.

04 मई 2022 का पंचांग

यह भी पढ़े :  Kapoor Ke Upay: जान लें कपूर जलाने का ये बेहद खास तरीका, घर चलकर आएगी सुख-समृद्धि

आज की तिथि – वैशाख शुक्ल तृतीया

आज का करण – गर

आज का नक्षत्र – मृगशीर्ष

आज का योग – अतिगंड

आज का पक्ष – शुक्ल

आज का वार – बुधवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:04:00 AM

सूर्यास्त – 07:08:00 PM

चन्द्रोदय – 07:46:59

चन्द्रास्त – 22:18:59

चन्द्र राशि– वृषभ

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 13:19:31

मास अमांत – वैशाख

मास पूर्णिमांत – वैशाख

शुभ समय – कोई नहीं

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त– 11:51:28 से 12:44:46 तक

कुलिक– 11:51:28 से 12:44:46 तक

कंटक– 17:11:16 से 18:04:34 तक

राहु काल– 12:36 से 14:14

कालवेला/अर्द्धयाम– 06:31:40 से 07:24:58 तक

यमघण्ट– 08:18:16 से 09:11:34 तक

यमगण्ड– 07:18:18 से 08:58:14 तक

गुलिक काल– 14:14 से 15:52