Aaj Ka Panchang : 21 अप्रैल 2022 : आज करें ​भगवान विष्णु की पूजा, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग : आज 21 अप्रैल दिन गुरुवार है. आज वैशाख माह के कृष्ण पक्ष की पंचमी तिथि है. आज गुरुवार के दिन भगवान विष्णु की पूजा करते हैं. भगवान विष्णु को पीले पुष्प, चना दाल, गुड़, पंचामृत, तुलसी का पत्ता, केला, चंदन, अक्षत्, धूप, दीप, गंध, फल आदि अर्पित करते हुए पूजा करते हैं. जो लोग व्रत रखते हैं, उनको गुरुवार व्रत कथा का पाठ या श्रवण करना चाहिए. इस दिन पूजा के समय विष्णु चालीसा एवं विष्णु सहस्रनाम का पाठ और विष्णु मंत्रों का जाप करना चाहिए. भगवान विष्णु की कृपा से धन, सुख एवं समृद्धि मिलती है. जिन पर भगवान विष्णु की कृपा हो जाती है, उनको मोक्ष मिल जाता है. मृत्यु के बाद श्रीहरि के धाम में स्थान मिलता है. पूजा का समापन भगवान विष्णु की आरती से करनी चाहिए.

इस दिन आप केले के पौधे की पूजा करें क्योंकि उसमें भगवान विष्णु का वास माना जाता है. गुरुवार को देव गुरु बृहस्पति की पूजा करके अपने बिगड़े काम बना सकते हैं. जब कुंडली में गुरु ग्रह की स्थिति मजबूत होती है, तो काम में सफलता मिलती है, पद और प्रतिष्ठा बढ़ती है. इस दिन आप किसी गरीब ब्राह्मण को केला, पीले वस्त्र, गुड़, चने की दाल आदि का दान करेंगे, तो बृहस्पति ग्रह मजबूत होगा. इसे मजबूत करने का सबसे आसान उपाय है प्रतिदिन अपने गुरु को प्रणाम करके आशीर्वाद प्राप्त करना. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी होगी आज ग्रहों की चाल.

21 अप्रैल 2022 का पंचांग

यह भी पढ़े :  zodiac signs : 5 ग्रह परिवर्तन देंगे करियर में बड़ा लाभ इस पूरे महीने 6 राशि वालों पर बरसेगा पैसा.

आज की तिथि – वैशाख कृष्णपक्ष पंचमी

आज का करण – तैतिल

आज का नक्षत्र – मूल

आज का योग – परिध

आज का पक्ष – कृष्ण

आज का वार – गुरुवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:14:00 AM

सूर्यास्त – 07:02:00 PM

चन्द्रोदय – 24:06:00

चन्द्रास्त – 09:18:59

चन्द्र राशि– धनु

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 13:00:00

मास अमांत – चैत्र

मास पूर्णिमांत – वैशाख

शुभ समय – 11:54:09 से 12:46:09 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त– 10:10:09 से 11:02:09 तक, 15:22:09 से 16:14:09 तक

कुलिक– 10:10:09 से 11:02:09 तक

कंटक– 15:22:09 से 16:14:09 तक

राहु काल– 14:14 से 15:50 तक

कालवेला/अर्द्धयाम– 17:06:09 से 17:58:09 तक

यमघण्ट– 06:42:09 से 07:34:09 तक

यमगण्ड– 05:50:09 से 07:27:39 तक

गुलिक काल– 09:26 से 11:02 तक