Aaj Ka Panchang : 07 अप्रैल 2022: आज करें मां कात्यायनी की आराधना, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 07 अप्रैल दिन गुरुवार है और चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि है. नवरात्रि के छठे दिन मां कात्यायनी की आराधना की जाती है. ये मां दुर्गा का छठा स्वरुप हैं. यह देवी कात्यायन ऋषि की कन्या के रुप में प्रकट हुई थीं, इस वजह से इनको मां कात्यायनी कहते हैं.

माता पार्वती का यह सबसे उग्र स्वरुप माना जाता है. इनकी पूजा करने से व्यक्ति को कार्यों में सफलता एवं चारों ओर प्रसिद्धि मिलती है. मां कात्यायनी की पूजा में शहद का भोग लगाते हैं. इनके मंत्र का जाप करना फलदायी एवं कल्याणकारी होता है. पूजा के समय मां कात्यायनी की कथा और आरती करते हैं. मां कात्यायनी को युद्ध की देवी मानते हैं. इन्होंने ही महिषासुर का वध किया था.

आज गुरुवार का दिन भगवान विष्णु और देव गुरु बृहस्पति की पूजा के लिए उत्तम है. आज इनकी पूजा में पीले फूल, पीले वस्त्र, हल्दी, चने की दाल, गुड़, चंदन, पंचामृत, तुलसी का पत्ता आदि का उपयोग करते हैं. आज केले के पौधे की पूजा करने और व्रत में केला न खाने की परंपरा है. केले में भगवान विष्णु विराजमान होते हैं.

आज चने की दाल, घी, पीले वस्त्र, हल्दी, केले आदि का दान करने से भी गुरु की कृपा प्राप्त होती है. गुरुवार का व्रत रखने और भगवान विष्णु की पूजा करने से वैवाहिक जीवन सुखमय होता है, समस्याएं दूर होती हैं. जिनके विवाह में कोई देरी होती है, वह भी दूर हो जाती है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

यह भी पढ़े :  ASTROLOGY : इन दो ग्रहों के प्रभाव से लड़कों पर फिदा रहती हैं लड़कियां.

07 अप्रैल 2022 का पंचांग

आज की तिथि – चैत्र शुक्ल षष्ठी

आज का करण – कौलव

आज का नक्षत्र – मृगशीर्ष

आज का योग – सौभाग्य

आज का पक्ष – शुक्ल

आज का वार – गुरुवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:26:00 AM

सूर्यास्त – 06:57:00 PM

चन्द्रोदय – 09:52:59

चन्द्रास्त – 24:26:59

चन्द्र राशि– वृषभ

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 12:37:06

मास अमांत – चैत्र

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – 11:58:23 से 12:48:52 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 10:17:27 से 11:07:55 तक, 15:20:17 से 16:10:45 तक

कुलिक – 10:17:27 से 11:07:55 तक

कंटक – 15:20:17 से 16:10:45 तक

राहु काल – 14:15 से 15:49

कालवेला/अर्द्धयाम – 17:01:14 से 17:51:42 तक

यमघण्ट – 06:55:33 से 07:46:01 तक

यमगण्ड – 06:05:04 से 07:39:43 तक

गुलिक काल – 09:34 से 11:08