Aaj Ka Panchang : 05 अप्रैल 2022 : नवरात्रि के चौथे दिन करें मां कूष्माण्डा की पूजा, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 05 अप्रैल दिन मंगलवार है और चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि है. चैत्र नवरात्रि के चौथे दिन मां दुर्गा के कूष्माण्डा (Maa Kushmanda) स्वरूप की पूजा करते हैं.

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार है मां कूष्मांडा की मुस्‍कान से ब्रह्मांड की उत्‍पत्ति हुई थी. इस वजह से ही देवी का ये नाम पड़ा है. देवी मां की 8 भुजाएं हैं. सिंह माता का वाहन है. कहा जाता है कि शांत मन से माता की पूजा करनी चाहिए. भक्तों को कूष्मांडा माता की पूजा से सभी सिद्धियां प्राप्त हो सकती हैं. माता के हाथों में कमंडल, धनुष, बाण, पुष्प, कमल, कलश, चक्र, गदा और जप माला है. माता के इस स्वरूप को मालपुए का भोग लगाया जाता है. नवरात्रि में दुर्गा सप्तशती, चालीसा व आरती का पाठ करना चाहिए. खास तौर पर इन दिनों सच्चे मन से मांगी गई हर मुराद पूरी होती है. इन दिनों माता की विधि-विधान से पूजा करने से किस्मत के दरवाजे खुल जाते हैं.

आज मंगलवार है. इस दिन बजरंगबली की पूजा की जाती है. हनुमान जी को संकटमोचन कहा गया है. वह सभी दुख और संकट दूर करते हैं. इस दिन भक्त चमेली के तेल में सिंदूर घोल कर राम भक्त हनुमान को अर्पित करते हैं. मंदिरों में पुजारी सिंदूर उन्हें लगाते हैं. उन्हें मंगलवार को चोला चढ़ाने से सभी मनोरथ पूरे होते हैं. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

05 अप्रैल 2022 का पंचांग

यह भी पढ़े :  MAGH GUPT NAVRATRI 2022 : इन 2 विशेष योगों ने बढ़ाया कई गुना महत्‍व साल की पहली नवरात्र‍ि.

आज की तिथि – चैत्र शुक्ल चतुर्थी

आज का करण – विष्टि

आज का नक्षत्र – कृतिका

आज का योग – प्रीति

आज का पक्ष – शुक्ल

आज का वार – मंगलवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:28:00 AM

सूर्यास्त – 06:56:00 PM

चन्द्रोदय – 07:55:00

चन्द्रास्त – 21:40:00

चन्द्र राशि– मेष

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 12:32:02

मास अमांत – चैत्र

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – 11:59:25 से 12:49:34 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 12:49:34 से 13:39:42 तक, 15:19:58 से 16:10:06 तक

कुलिक – 15:19:58 से 16:10:06 तक

कंटक – 08:38:53 से 09:29:01 तक

राहु काल – 08:03 से 09:36

कालवेला/अर्द्धयाम – 10:19:09 से 11:09:17 तक

यमघण्ट – 11:59:25 से 12:49:34 तक

यमगण्ड – 10:50:29 से 12:24:30 तक

गुलिक काल – 14:16 से 15:49