Aaj Ka Panchang : 04 अप्रैल 2022: आज मां चंद्रघंटा को करें प्रसन्न, जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 04 अप्रैल दिन सोमवार है और चैत्र माह के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि है. चैत्र नवरात्रि के तीसरे दिन मां दुर्गा के चंद्रघंटा (Maa Chandraghanta) स्वरुप की पूजा करते हैं. अपने माथे पर घंटायुक्त चंद्रमा धारण करने की वजह से माता का नाम चंद्रघंटा पड़ा है. सिंह पर सवार होने वाली मां चंद्रघंटा विजय का प्रतीक हैं. इनकी आराधना करने से शत्रुओं पर विजय मिलती है, यह अपने भक्तों को वीरता और साहस प्रदान करती हैं. मां चंद्रघंटा की 10 भुजाएं हैं, जिसमें वे अस्त्र शस्त्र धारण किए रहती हैं. जब तीनों लोकों में अधर्म, असत्य और राक्षसों का अत्याचार बढ़ गया था, तो मां दुर्गा ने इन सभी से मुक्ति के लिए चंद्रघंटा स्वरुप धारण किया. आज मां चंद्रघंटा को चमेली का फूल चढ़ाएं और दूध से बनी मिठाई या खीर का भोग लगाएं. इससे देवी चंद्रघंटा प्रसन्न होंगी और आपकी मनोकामनाओं को पूरा करने का आशीर्वाद देंगी.

चैत्र शुक्ल तृतीया को गणगौर तीज व्रत रखा जाता है. यह व्रत अखंड सुहाग एवं मनोवांछित वर की कामना से रखते हैं. आज जो महिलाएं गणगौर व्रत रहती हैं, वे माता पार्वती एवं शिव जी की पूजा करती हैं. शिव और शक्ति की आराधना से अखंड सौभाग्य का आशीर्वाद मिलता है. वैसे भी आज सोमवार को भगवान शिव की पूजा करने का विधान है. भगवान शिव की पूजा करने से सभी कष्ट एवं दुख दूर होते हैं. चंद्र दोष भी दूर होता है. भगवान शिव की पूजा बेलपत्र एवं गंगाजल से कर सकते हैं. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

यह भी पढ़े :  Astrology: इन 4 राशि वालों में होती है खुद को सबसे बेहतर समझने की आदत, क्‍या आपके आसपास भी हैं ऐसे लोग

04 अप्रैल 2022 का पंचांग

आज की तिथि – चैत्र शुक्ल तृतीया

आज का करण – गर

आज का नक्षत्र – भरणी

आज का योग – विष्कुंभ

आज का पक्ष – शुक्ल

आज का वार – सोमवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:29:00 AM

सूर्यास्त – 06:56:00 PM

चन्द्रोदय – 07:55:00

चन्द्रास्त – 21:40:00

चन्द्र राशि– मेष

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1944 शुभकृत

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5123

दिन काल – 12:32:02

मास अमांत – चैत्र

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – 11:59:25 से 12:49:34 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 12:49:34 से 13:39:42 तक, 15:19:58 से 16:10:06 तक

कुलिक – 15:19:58 से 16:10:06 तक

कंटक – 08:38:53 से 09:29:01 तक

राहु काल – 08:03 से 09:36

कालवेला/अर्द्धयाम – 10:19:09 से 11:09:17 तक

यमघण्ट – 11:59:25 से 12:49:34 तक

यमगण्ड – 10:50:29 से 12:24:30 तक

गुलिक काल – 14:16 से 15:49