AAJ KA PANCHANG : 30 मार्च 2022 : मासिक शिवरात्रि आज जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 30 मार्च दिन बुधवार है. आज चैत्र माह (Chaitra Month) के कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी तिथि है. दोपहर 01:21 बजे से चतुर्दशी तिथि प्रारंभ हो रही है, ऐसे में मासिक शिवरात्रि का व्रत (Masik Shivratri Vrat) आज ही रखा जाएगा क्योंकि चतुर्दशी तिथि में शिव पूजा का मुहूर्त आज रात प्राप्त हो रहा है. आज चैत्र मासिक शिवरात्रि मनाई जा रही है. शिव भक्त सुबह से ही शिव मंदिरों में पूजा अर्चना कर रहे हैं. शिव जी को बेलपत्र, गंगाजल, सफेद चंदन, भांग, धतूरा आदि चढ़ाया जाता है. श्री गणेश, कार्तिकेय, माता पार्वती एवं नंदी की पूजा करते हैं. माता पार्वती एवं शिव जी का गठबंधन भी किया जाता है. आज शिव चालीसा का पाठ, शिवरात्रि व्रत कथा का श्रवण या पाठ करना उत्तम होता है. पूजा का समापन शिव जी की आरती से करते हैं. शिव जी प्रसन्न होकर भक्तों की मनोकामनाएं पूरी करते हैं और दुखों को दूर करते हैं. शिव जी के आशीर्वाद से सुख, संपत्ति आदि की प्राप्ति भी होती है.

आज बुधवार के दिन गणेश जी की विशेष पूजा करते हैं. वैसे भी आज का दिन शिव पूजा से जुड़ा है. पिता-पुत्र यानी शिव जी और गणेश जी की पूजा करके आप सुख और सौभाग्य में वृद्धि कर सकते हैं. गणेश जी प्रथम पूज्य है, इसलिए गणेश जी को लाल या पीले पुष्प, लाल चंदन, अक्षत्, धूप, दीप, गंध, नारियल, सुपारी, पान का पत्ता, दुर्वा, मोदक आदि अर्पित कर विधिपूर्वक पूजा करें. आज गाय की सेवा करने और उसे हरा चारा खिलाने से बुध ग्रह से जुड़े दोष दूर होते हैं. बिजनेस या करियर में तरक्की होती है. बुध ग्रह मजबूत होता है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

यह भी पढ़े :  GRAH DOSH UPAY 2022 : नए साल में ग्रहों के दोष को शांत करने का सबसे कारगर तरीका जाने क्या हैं.

30 मार्च 2022 का पंचांग

आज की तिथि – चैत्र कृष्णपक्ष त्रयोदशी

आज का करण – वणिज

आज का नक्षत्र – शतभिषा

आज का योग – शुभ

आज का पक्ष – कृष्ण

आज का वार – बुधवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:34:00 AM

सूर्यास्त – 06:54:00 PM

चन्द्रोदय – 29:48:59

चन्द्रास्त – 16:49:59

चन्द्र राशि– कुंभ

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1943 प्लव

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5122

दिन काल – 12:23:30

मास अमांत – फाल्गुन

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – कोई नहीं

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 12:01:12 से 12:50:46 तक

कुलिक – 12:01:12 से 12:50:46 तक

कंटक – 16:58:36 से 17:48:10 तक

राहु काल – 12:44 से 14:16

कालवेला/अर्द्धयाम – 07:03:48 से 07:53:22 तक

यमघण्ट – 08:42:56 से 09:32:30 तक

यमगण्ड – 07:47:10 से 09:20:06 तक

गुलिक काल – 14:16 से 15:49