Aaj Ka Panchang : आज का पंचांग : 13 सितंबर 2022 : अंगारकी संकष्टी चतुर्थी व्रत, जानें मुहूर्त और शुभ योग कब से कब तक.

राष्ट्रीय मिति भाद्रपद 22, शक संवत् 1944, आश्विन, कृष्ण तृतीया, मंगलवार, विक्रम संवत् 2079। सौर भाद्रपद मास प्रविष्टे 28, सफर 16, हिजरी 1444 (मुस्लिम), तदनुसार अंग्रेजी तारीख 13 सितम्बर सन् 2022 ई०। सूर्य दक्षिणायण उत्तर गोल, शरद ऋतु।

राहुकाल अपराह्न 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। तृतीया तिथि पूर्वाह्न 10 बजकर 38 मिनट तक उपरांत चतुर्थी तिथि का आरंभ। रेवती नक्षत्र प्रातः 06 बजकर 36 मिनट तक उपरांत अश्विनी नक्षत्र का आरंभ।

वृद्धि योग प्रातः 07 बजकर 36 मिनट तक उपरांत धु्रव योग का आरंभ। विष्टि करण पूर्वाह्न 10 बजकर 38 मिनट तक उपरांत बालव करण का आरंभ। चंद्रमा प्रातः 06 बजकर 36 मिनट तक मीन उपरांत मेष राशि पर संचार करेगा।

आज के व्रत त्योहार – अंगारकी श्रीगणेश चतुर्थी व्रत। तृतीया तिथि का श्राद्ध।

सूर्योदय का समय 13 सितंबर 2022 : सुबह 06 बजकर 05 मिनट पर।
सूर्यास्त का समय 13 सितंबर 2022 : शाम 06 बजकर 29 मिनट पर।

आज का शुभ मुहूर्त 13 सितंबर 2022 :
अभिजीत मुहूर्त दोपहर 11 बजकर 52 मिनट से 12 बजकर 42 मिनट तक। विजय मुहूर्त दोपहर 02 बजकर 21 मिनट से 03 बजकर 10 मिनट तक रहेगा। निशीथ काल मध्‍यरात्रि 11 बजकर 54 मिनट से 12 बजकर 40 मिनट तक। गोधूलि बेला शाम 06 बजकर 16 मिनट से 06 बजकर 40 मिनट तक। अमृत काल मध्‍यरात्रि 11 बजकर 39 मिनट से 01 बजकर 16 मिनट तक रहेगा। सर्वार्थसिद्धि योग और अमृतसिद्धि योग सुबह 06 बजकर 36 मिनट से अगली सुबह 06 बजकर 05 मिनट तक।

आज का अशुभ मुहूर्त 13 सितंबर 2022 :
राहुकाल दोपहर 03 बजे से 04 बजकर 30 मिनट तक। सुबह 09 बजे से 10 बजकर 30 मिनट तक यमगंड रहेगा। दोपहर 12 बजे से 01 बजकर 30 मिनट तक गुलिक काल रहेगा। दुर्मुहूर्त काल सुबह 08 बजकर 34 मिनट से 09 बजकर 23 मिनट तक रहेगा इसके बाद मध्यरात्रि 11 बजकर 07 मिनट से 11 बजकर 54 मिनट तक। भद्राकाल सुबह 06 बजकर 05 मिनट से 10 बजकर 37 मिनट तक। पंचक काल सुबह 06 बजकर 05 मिनट से 06 बजकर 06 मिनट तक।

यह भी पढ़े :  5 bad omen are very inauspicious : कौन से 5 अपशगुन होते हैं बेहद अशुभ जिनके होने से घर-परिवार पर मंडराता है खतरा.

आज का उपाय : हनुमान चालीसा का पाठ करें, बड़े भाई से आशीर्वाद लें।