AAJ KA PANCHANG : 26 मार्च 2022: आज करें शनि देव की पूजा जानें शुभ-अशुभ समय एवं राहुकाल.

आज का पंचांग (Aaj Ka Panchang): आज 26 मार्च दिन शनिवार है. आज चैत्र माह (Chaitra Month) के कृष्ण पक्ष की नवमी तिथि है. आज शनि देव की पूजा करनी चाहिए. शनि देव की पूजा (Shani Dev Ki Puja) करने से दोष, रोग, पीड़ा आदि से मुक्ति मिलती है, कार्यों में सफलता भी प्राप्त होती है. आज शनि देव को नीले रंग के फूल, शमी के पत्ते, अक्षत्, तिल का तेल, काला तिल, सरसों का तेल आदि चढ़ाना चाहिए. उनको काली उड़द की खिचड़ी और मीठी पूड़ी का भोग लगाएं. आप चाहें तो काले तिल से बने पकवान या मिठाई का भी भोग लगा सकते हैं. ऐसा करने से शनि देव प्रसन्न होंगे क्योंकि ये चीजें शनि देव को प्रिय हैं. पूजा के समय शनि चालीसा, शनि स्तोत्र का पाठ या शनि देव के मंत्रों का जाप करें. जो लोग शनिवार व्रत रखते हैं, उनको शनिवार व्रत कथा का पाठ या श्रवण जरूर करना चाहिए.

यदि आपकी कुंडली में शनि दोष है, साढ़ेसाती या ढैय्या की दशा चल रही है, उनको आज शनि मंदिर में जाकर शनि देव का दर्शन करें. उनको सरसों के तेल का दीपक अर्पित करें. आज सरसों के तेल में स्वयं का मुख देखकर छाया दान करें. गरीबों को काले वस्त्र, चमड़े के जूते या चप्पल, सरसों का तेल, शनि चालीसा, काला तिल, काली उड़द, लोहा या स्टील के बर्तन आदि का दान करें. ये सब शनि देव की पीड़ा से राहत के प्रमुख उपाय हैं. इनके अलावा आप सफाई कर्मचारियों, नौकर-चाकर या अपने से नीचे के पदों पर कार्यरत लोगों से सही व्यवहार करें. इससे भी शनि पीड़ा से राहत मिलती है. आइए पंचांग से जानें आज का शुभ और अशुभ मुहूर्त और जानें कैसी रहेगी आज ग्रहों की चाल.

यह भी पढ़े :  Vivah Panchami : 8 दिसंबर को है शादी का बेहद शुभ मुहूर्त फिर भी शादी करना अशुभ, जानें अजीब वजह.

26 मार्च 2022 का पंचांग

आज की तिथि – चैत्र कृष्णपक्ष नवमी

आज का करण – तैतिल

आज का नक्षत्र – पूर्वाषाढ़ा

आज का योग – परिध

आज का पक्ष – कृष्ण

आज का वार – शनिवार

सूर्योदय-सूर्यास्त और चंद्रोदय-चंद्रास्त का समय

सूर्योदय – 06:38:00 AM

सूर्यास्त – 06:52:00 PM

चन्द्रोदय – 27:07:59

चन्द्रास्त – 12:28:59

चन्द्र राशि– धनु

हिन्दू मास एवं वर्ष

शक सम्वत – 1943 प्लव

विक्रम सम्वत – 2079

काली सम्वत – 5122

दिन काल – 12:16:38

मास अमांत – फाल्गुन

मास पूर्णिमांत – चैत्र

शुभ समय – 12:02:39 से 12:51:45 तक

अशुभ समय (अशुभ मुहूर्त)

दुष्टमुहूर्त – 06:18:53 से 07:07:59 तक, 07:07:59 से 07:57:06 तक

कुलिक – 07:07:59 से 07:57:06 तक

कंटक – 12:02:39 से 12:51:45 तक

राहु काल – 09:42 से 11:13

कालवेला/अर्द्धयाम – 13:40:52 से 14:29:59 तक

यमघण्ट – 15:19:05 से 16:08:12 तक

यमगण्ड – 13:59:17 से 15:31:22 तक

गुलिक काल – 06:38 से 08:10