Karj Se Mukti ke Upay : बजरंगबली के ये उपाय कर्ज मुक्ति और धन वृद्धि के लिए.

Karj Se Mukti ke Upay: हर व्यक्ति को जीवन में किसी न किसी काम के लिए पैसों (Money) की जरूरत पड़ती है, लेकिन महंगाई के दौर में ठीक तरीके से अपना जीवन यापन करना कुछ लोगों के लिए बेहद मुश्किल हो जाता है. जिसके कारण उन्हें अपने जान-पहचान वालों से कर्ज लेने की जरूरत महसूस होने लगती है. कभी-कभी कर्ज (Loan) इतना ज्यादा चढ़ जाता है कि उसे चुका पाना बहुत मुश्किल हो जाता है. या फिर यूं कहें कि वह गले की हड्डी बन जाता है जिसे ना तो उगल सकते हैं और ना ही निगल सकते हैं.

ऐसी स्थिति में आपको मंगलवार (Tuesday) के दिन कुछ उपाय करने चाहिए जिससे आप किसी भी तरह के कर्ज से मुक्त हो सकते हैं. किन्हीं कारण से अगर आप कर्जे में डूब गए हैं तो इसके लिए आपको हनुमान जी की शरण में जाना पड़ेगा इससे आपको तुरंत कर्ज से मुक्ति मिल जाएगी.

अपनाएं ये उपाय :

हनुमान जी की पूजा और उनकी भक्ति के लिए सबसे अच्छा दिन मंगलवार का माना जाता है. इस दिन आप कर्ज से मुक्ति भी पा सकते हैं. अगर आपने किसी से कर्ज लिया है तो मंगलवार के दिन हनुमान चालीसा का पाठ करें और हनुमान मंदिर में जाकर नारियल अर्पित करें. ऐसा करना शुभ माना जाता है. भूलकर भी बुधवार और रविवार के दिन किसी को उधार ना दें.

कर्ज से मुक्ति पाने के लिए मंगलवार के दिन कुछ चीजें हैं जिनका दान और प्रयोग करना विशेष महत्वपूर्ण माना गया है. जैसे तांबा, मतान्तर से सोना, केसर, कस्तूरी, गेहूं, लाल चंदन, लाल गुलाब, सिंदूर, शहद, लाल पुष्प, मसूर की दाल, लाल कनेर, लाल मिर्च, लाल पत्थर, लाल मूंगा आदि.

यह भी पढ़े :  GOOD OMEN : होगा जबरदस्त धन लाभ अगर आपके साथ भी ये शगुन हो गया हैं तो खुल जाएगी किस्मत.

किसी भी तरह के कर्ज से मुक्ति पाने के लिए आटे से निर्मित दीपक को बरगद के पत्ते पर रखकर जलाना चाहिए. 5 पत्तों पर पांच दीपक रखें और उन्हें ले जाकर हनुमान मंदिर में रख दें यह उपाय लगातार 11 तक मंगलवार करें.

जो व्यक्ति अधिक कर्ज में डूबा है वह शुक्ल पक्ष के किसी भी मंगलवार की रात हनुमान मंदिर में जाकर दो दीपक जलाएं. पहला एक छोटा दीपक देसी घी में, दूसरा 9 बत्तियों वाला बड़ा दीपक सरसों के तेल में 2 लौंग डालकर जलाएं. ध्यान रहे यह दीपक रात भर जलता रहे. छोटा दीपक अपनी दाहिनी तरफ रखें और बड़ा दीपक हनुमान जी के सामने रखें. ये उपाय 5 मंगलवार तक करें.